सौतेली मां की मर्डर कर कमरे में मृत शरीर दफनाया, पुलिस ने किया अरेस्ट

 सौतेली मां की मर्डर कर कमरे में मृत शरीर दफनाया, पुलिस ने किया अरेस्ट

वाराणसी में भेलूपुर के बजरडीहा इलाके में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. एक युवक ने अपनी सौतेली मां की मर्डर कर कमरे में ही मृत शरीर दफना दिया. 

इसकी जानकारी पत्नी को भी न हो इसलिए उसे पहले ही मायके भेज दिया था. सौतेले भाई-बहन को बहाना बनाकर पड़ोसी के यहां रख दिया था. 28 जून की रात हुई वारदात का खुलासा रविवार की शाम हुआ. पुलिस ने जमीन खुदवाकर बोरे में दफनाई गई डेड बॉडी को निकाला व हत्यारोपी युवक को अरैस्ट कर लिया.  

बजरडीहा इलाके के छाही बड़ी पटिया निवासी अलताफ हुसैन उर्फ सोनू ने सौतेली मां परवीन बानो (38) की पहले गला दबाकर मर्डर की फिर कमरे में ही सात फुट का गड्ढा करके उसमें दफना दिया. गड्ढे में ढेर सारा नमक भी डाल दिया. ऊपर सीमेंट से फर्श पक्का भी कर दिया. कई दिनों तक परवीन के न दिखने पर आसपास के लोगों को संदेह हुआ.

इसके बाद बड़ी पियरी निवासी परवीन के भाई मो। मोइन को पड़ोसियों से अनहोनी की सूचना मिली. मोईन ने पुलिस से बहन की मर्डर की संभावना जतायी. इसके बाद पुलिस ने सोनू को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने मर्डर की बात कबूल ली. सोनू के बताने पर तीन घंटे तक खुदाई के बाद मृत शरीर निकाला गया. भेलूपुर इंस्पेक्टर उत्तर प्रदेश सिंह ने बताया कि संपत्ति टकराव में मर्डर हुई है. आरोपित सोनू का बोलना था कि उसकी मां अपने बच्चों अब्दुल व रुखसार को प्रताड़ित करती थी. जबरदस्ती उनसे कार्य कराती थी. उसकी वजह से घर में कलह होता था. इससे क्षुब्ध होकर ऐसा कदम उठाया.

दो कमरे के मकान को चोरी-छिपे बेच दिया था सोनू 
बड़ी पटिया निवासी अली हुसैन ने तीन शादियां की थी. दूसरी पत्नी से नसीम व सोनू थे. बड़ा भाई नसीम मुहल्ले में ही किराये पर रहता है. तीसरी पत्नी परवीन बानो थी. उससे दो बच्चे अब्दुल माजिद (10) व रुखसार (6) हैं. करीब एक वर्ष पहले अली हुसैन की मृत्यु हो गई. दो छोटे कमरों में सोनू अपनी पत्नी, डेढ़ वर्ष के बेटे, सौतेली मां परवीन और सौतेले भाई-बहन अब्दुल, रुखसार के साथ रहता था. तेलियाना में उसकी पंक्चर बनाने की दुकान है. पुलिस ने बताया कि सोनू जिस दो कमरे के मकान में रहता है, उसे बेच दिया था. उसे भय था कि सौतेली मां भाग मांगेगी. इसीलिए उसने उसे रास्ते से हटाने की सोची व वारदात को अंजाम दे डाला.

घर में मिट्टी देख अनहोनी की आशंका
करीब सात फीट खुदाई से निकली मिट्टी निकालकर आरोपित घर में इकट्ठा किया था. पहले तो लोगों को लगा कि किसी कार्य से मिट्टी खोदी गई है. चूंकि दफन के बाद भी मिट्टी बची थी. ससुराल से लौटी पत्नी रुसखाना ने पक्का फर्श देखा तो बताया कि बारिश में जलभराव न हो, इसके लिए उसने तैयारी की है. सौतेली मां के बारे में पूछने पर जानकारी न होने की बात कहता था. उसकी गतिविधियां व घर में पड़ी मिट्टी, पक्का फर्श देख, परवीन को न देख लोगों को संभावना हुई तो मो। मोइन को जानकारी दी गई.

थाने से दोबारा घर लाया गया आरोपित, बोला-अभी व नीचे खोदो
करीब पांच फुट खुदाई के बाद भी मृत शरीर नहीं मिला. रात नौ बजे से 10.30 बजे तक खुदाई में भी पता नहीं चला तो आरोपित सोनू को थाने से पुलिस फिर से लेकर घटनास्थल पर पहुंची. कमरे में गये सोनू ने बोला कि अभी व खोदो तब डेड बॉडी मिलेगी. इसके बाद फिर खुदाई प्रारम्भ हुई तो तेज दुर्गंध आई. फिर बोरे में भरी डेड बॉडी निकाली गई. मौके पर फोरेंसिक टीम पहुंची थी. घटनास्थल की फोटोग्राफी के अतिरिक्त वहां से साक्ष्य जुटाये.  

सनकी सोनू पत्नी की भी पिटाई करता था
आरोपित अपनी पत्नी रुसखाना की बेतरतीब ढंग से पिटाई करता था. दो माह पहले भी सोनू ने अपनी सौतेली मां को जमकर पीटा था. यहां तक कि घर का सारा सामान फेंक दिया.