यह अनोखा दृश्य देख बुजुर्ग भी बोले, लौट आए दशकों पुराने दिन

यह अनोखा दृश्य देख बुजुर्ग भी बोले, लौट आए दशकों पुराने दिन

कोरोना महामारी के डर से लोगों ने अपनी जिंदगी में कई बदलाव लाए हैं। मास्क लगाना, पब्लिक प्लेस पर लोगों से उचित दूरी बनाए रखना, जैसी कुछ बातें लोग अब अपने डेली लाइफ में फॉलो करते हैं। लेकिन राजस्थान के जैसलमेर जिले के बांधेवा पंचायत के दुल्हे महिपाल सिंह एवं परिजनों ने कोरोना के चलते सोशल डिस्टेंसिंग मैटेंन करने के लिए अनोखा तरीका अपनाया है। महिपाल सिंह शादी करने के लिए रेगिस्तान के जहाज यानी ऊंटों पर बारात लेकर दुल्हन लेने पहुंचे। उनका यह तरीका काफी हटकर था, लिहाजा इस शादी में देख पूरे क्षेत्र में चर्चा बनी हुई है।

बताया जा रहा है कि बारात ग्राम पंचायत बांधेवा के केसुला पाना महेचो की ढाणी से कालजिरो भाटियो की ढाणी बाड़मेर पहुंची। बाड़ेमर जिले का केसुबला गांव जो की लगभग 7 किलोमीटर दूर स्थित है, वहां इसी अंदाज में बारात पहुंची। इस बारात में लगभग 15 उंट व 30 बाराती थे। कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए 50 साल बाद ऊंटों पर निकली बारात को देखकर बुजुर्गों को अपनी शादी की यादें ताजा हो गईं।

लोगों का कहना है कि देश-दुनिया की तरह जैसलमेर में भी आधुनिकता के चलते अब ज्यादात्तर लोग बारात ले जाने के लिए चमचमाती कारों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन पहले ऊंटों से भी बारात लेकर जाई जाती थी। ऐसे में जैसलमेर में इतने लंबे अंतराल के बाद इस अंदाज में बारात निकली, तो हर कोई इसे देखकर हैरान हो गया। 


अदरक का स्वाद चखकर बंदर ने दिया ऐसा रिएक्शन

अदरक का स्वाद चखकर बंदर ने दिया ऐसा रिएक्शन

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे देख आप हैरान हो जाएंगे। इस वीडियो में एक बंदर ने पुरानी कहावत 'बंदर क्या जाने अदरक का स्वाद' को गलत साबित कर दिया है। इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक चबूतरे पर कई बंदर बैठकर सुकून भरे पल बिता रहे हैं। मानो बंदर भी लॉकडाउन के नियमों का पालन कर रहे हैं।


वहीं, कुछ बच्चे बंदरों को देख शोर मचाने लगते हैं। यह सुन बड़े लोग भी घर से बाहर निकल आते हैं। कुछ लोग बंदर के साथ मस्ती करने लगते हैं, तो कुछ लोग बंदरों को चिढ़ाने लगते हैं। इस क्रम में एक व्यक्ति अदरक लेकर बंदरों के पास जाकर देने की कोशिश करता है। कुछ बंदर अनजान बन व्यक्ति के प्रस्ताव को ठुकरा देता है। वहीं, सबसे बड़ा बंदर आगे आकर मानो कहना चाहता है कि जरा दिखाओ-मैं कोशिश करता हूं। इसके बाद वह अपने पंजे के सहारे अदरक को तोड़ता और फिर खाने की कोशिश करता है। इस दौरान बंदर को अदरक का स्वाद पसंद नहीं आता है। फिर क्या-बंदर अदरक को दूर फेक देता है।

इस वीडियो को भारतीय वन सेवा के अधिकारी सुशांत नंदा ने सोशल मीडिया ट्विटर पर अपने अकांउट से शेयर किया है। इस वीडियो को खबर लिखे जाने तक 25 हजार से अधिक बार देखा गया है। वहीं, 2 हजार से अधिक लोगों ने पसंद किया है। जबकि, कुछ लोगों ने कमेंट कर कुछ लोगों ने बंदर की जमकर तारीफ की है। एक यूजर पंकज ने लिखा है-मैने ये सिर्फ कहावत ही सुनी थी आज देख भी लिया। एक अन्य यूजर करिश्मा ने लिखा है-बेचारा कुछ स्वादिष्ट चीज की उम्मीद में था।


बिजली के खंभे के पास नहीं करें कोई काम, रिपेयरिंग के चक्‍कर में चली गई कैमूर के युवक की जान       आंधी-तूफान से धराशाई हो गए मिट्टी और फूस के बने गई घर, नवादा में पेड़-पौधों को भी पहुंचा नुकसान       बिहार में शिक्षकों के तबादले की तैयारी, जुलाई के पहले सप्ताह में जारी होगा शेड्यूल       रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर, बिहार में सात जोड़ी ट्रेनों का परिचालन 24 से होगा शुरू       फतेहपुर का 'श्याम' उत्तराखंड में कैसे बना 'उमर', यहां जानिए- पूरी प्रोफाइल       UP का पहला कोरोनामुक्त जिला बना महोबा, सीएम योगी ने की खूब तारीफ       उमर गौतम की गिरफ्तारी पर रिश्तेदारों ने दी प्रतिक्रिया, कहा...       कमरे में बंद कर बच्ची को दिखा रहा था अश्लील फिल्म, कर रहा था गंदी बात       गोरखपुर में फेरी लगाकर बेचते थे स्मैक, पुलिस ने पकड़ा, जानें       तीन साल बीत गए, अभी तक वातानुकूलित नहीं हुए स्टेशन प्रबंधकों के दफ्तर       श्रावस्ती में च‍िलच‍िलाती धूप में बैंक के सामने लेटा वृद्ध, अपने पैसों के ल‍िए आठ माह से लगा रहा था चक्‍कर       बीटेक, बीसीए अंतिम सेमेस्टर परीक्षाओं की त‍िथ‍ि घोष‍ित, जान‍िए क्‍या है पूरा शिड्यूल       बहराइच के कतर्नियाघाट में हाथी का उपद्रव, दो मकान को किया क्षतिग्रस्त-लोगों ने भागकर बचाई जान       रोबोट-ड्रोन जैसे यंत्र बनाना सीख जुड़े रोजगार से, राजकीय इंजीनियरिंग कालेज अंबेडकरनगर देगा न‍िश्‍शुल्‍क प्रश‍िक्षण       क्रिकेट मैदान की भांति सुखाई जा रही नींव, ढलाई का एक चौथाई कार्य पूरा       शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी पर दुष्कर्म का आरोप, लखनऊ में ड्राइवर की पत्नी ने दी तहरीर       दारोगा भर्ती के आवेदकों के लिए जरूरी सूचना, रजिस्टर्ड अभ्यर्थियों मिला अतिरिक्त मौका       सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरने की तैयारी तेज, भर्ती आयोग व बोर्ड अध्यक्षों की क्लास लेंगे सीएम योगी       न्यायमूर्ति एमएन भंडारी इलाहाबाद हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश नियुक्त       कोर कमेटी का 2022 में जीत को लेकर मंथन, बीएस संतोष के साथ CM योगी मौजूद