पिकअप चालक की जमकर की बदमाशों ने पिटाई हुआ वीडियो रिकॉर्ड

पिकअप चालक की जमकर की बदमाशों ने पिटाई हुआ वीडियो रिकॉर्ड

दिल्ली से सटे साइबर सिटी गुरुग्राम ( Cyber city Gurugram ) में गुंडागर्दी ( Hooliganism ) का एक सनसनीखेज व दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है. यह एक ऐसी घटना है जिसकी फोटोज़ देखकर हर किसी का कालेजा कांप उठेगा.

दरअसल, दिल्ली-एनसीआर ( Delhi-NCR ) क्षेत्र के गुरुग्राम में शुक्रवार प्रातः काल करीब 9 बजे मीट से भरी एक पिकअप गाड़ी ( Pickup Van ) को कई किलोमीटर पीछा कर कुछ कथित युवकों ने पकड़ लिया. उसे बाद पिकअप चालक ( Pickup driver ) को नीचे उतारकर हथोड़े ( Hammer) से पीटना शुरु कर दिया.

बीच सड़क पर मापरीट के इस इस घटना की किसी ने मोबाइल में वीडियो बना लिया. वीडियो ( Video ) में साफ दिख रहा है कि कथित रूप से कुछ युवक बेरहमी से सरेआम गाड़ी चालक को बीच सड़क पर गिरा कर हथोड़े से पीट रहे हैं.

अफसोस की बात है कि हाथापाई की घटना गुरुग्राम पुलिस ( Gurugram Police ) के जवानों व दर्जनों लोगों के सामने बीच सड़क हो रहा था लेकिन किसी ने युवक को बचाने की प्रयास नहीं की.

जानकारी के मुताबिक कथित युवकों ने पहले तो बादशाहपुर कस्बे से पिकअप गाड़ी का करीब 8 किलोमीटर तक पीछा किया. पीछा करते हुए गुरुग्राम की जुम्मा मस्जिद ( Jumma Masjid ) के पास पिकअप चालक को पकड़ लिया. उसके बाद मस्जिद के पास ही चालक को बेहरमी से पीटते रहे.

पिकअप चालक लुकमान ( Pickup driver Lukman ) को अधमरा करने के बाद आरोपी युवक उसको अगवा कर ले गए व वापिस बादशाहपुर ले जाकर पीटने लगे. मौके पर पहुंची बादशाहपुर पुलिस ने लुकमान को बचाकर अपने वैन में बिठा लिया. इससे नाराज हाथापाई में शामिल युवक नाराज हो गए व पुलिस वालों से ही उलझ गए. बताया जा रहा है कि घटना की जानकारी मिलने के बाद सोहना से भाजपा के विधायक संजय सिंह ( बीजेपी MLA Sanjay Singh ) भी मौके पर पहुंचे गए थे.

किसी तरह बादशाहपुर पुलिस ने घायल लुकमान को अस्पताल पहुंचाया जहां उसका उपचार चल रहा है. पुलिस ने घायल लुकमान के बयानों के आधार पर अज्ञात के विरूद्ध कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है. लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

गाड़ी के मालिक ने बताया कि वो पिछले 50 वर्षों से मीट का कारोबार करते हैं. इस गाड़ी में भैंस का मीट लाया जा रहा था. पुलिस ने कथित हमलावरों के विरूद्ध केस दर्ज कर मीट का सैंपल जाँच के लिए प्रयोगशाला में भेज दिया है.