विवाह के 5वें दिन पति की डेड बॉडी रेल की पटरियों पर मिली, लोग हुए दंग

विवाह के 5वें दिन पति की डेड बॉडी रेल की पटरियों पर मिली, लोग हुए दंग

 देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) के नजदीक गाजियाबाद में पति-पत्नी की मृत्यु के बाद पुलिस (Police) मर्डर व आत्महत्या की गुत्थी में उलझी है।

 दोनों की 4 वर्ष के प्रेम संबंध के बाद बीते 29 जून को विवाह हुई थी। विवाह के 5वें दिन पति की डेड बॉडी रेल की पटरियों पर मिली। बताया जा रहा है कि उसने रेलगाड़ी के आगे कूद कर अपनी जान दे दी। इस घटना के अगले ही दिन पत्नी का मृत शरीर भी उसके मायके में कमरे में फांसी के फंदे से लटका मिली। पुलिस मुद्दे में जाँच कर रही है।

पुलिस से मिली जानकारी और मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक घटना कविनगर थाना क्षेत्र के गोविंदपुरम इलाके की है। पुलिस के मुताबिक पेशे से कोचिंग संचालक विशाल की विवाह निशा से बीते 29 जून को परिवार वालों की सहमति से ही हुई थी। निशा एक मल्टी नेशनल कंपनी में एचआर मैनेजर थी। विशाल के परिवालों ने पुलिस को बताया कि विवाह के बाद निशा ने ससुराल पहुंचने पर सभी रस्मों को हंसी-खुशी पूरा किया था। इन रस्मों को पूरा करने का एक वीडियो भी पुलिस के सामने पेश किया गया है।

फिर सुसाइड क्यों?
पुलिस से की गई शिकायत के मुताबिक घटना के दिन विशाल प्रातः काल ही घर से चला गया। इसके बाद शाम तक घर नहीं लौटा। इसके बाद विशाल के मोबाइल नंबर पर कॉल किया गया, जिसकी रिंग घर में ही बजती सुनाई दी। इसके बाद परिवार वालों ने 112 पर इसकी सूचना पुलिस को दी व विशाल की फोटो भी उपलब्ध करवाई। इसी दिन कुछ देर बाद पुलिस ने रेल की पटरियों पर मिली एक डेड बॉडी की फोटो घर वालों को दिखाई, जिसकी पहचान विशाल के रूप में की गई। हालांकि उसने आत्महत्या क्यों की, इसकी जानकारी वैसे किसी के पास नहीं है।




निशा की मायके में मौत
विशाल की मृत्यु के बाद निशा के परिवार वाले उसके ससुराल पहुंचे। अंतिम संस्कार की प्रक्रिया के बाद वे निशा को अपने साथ ही घर लेकर वापस लौटे। बताया जा रहा है कि विशाल की मृत्यु के बाद निशा गुमसुम हो गई थी। इसके बाद 4 जुलाई की रात को ही उसने फांसी के फंदे पर लटक कर जान दे दी। पुलिस मुद्दे में जाँच कर रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद जाँच की दिशा मर्डर या आत्महत्या की ओर तय की जा सकती है।