परिवार को बंधक बनाकर लाखों की हुई लूट, सीसीटीवी का ये वीडियो हुआ वायरल

परिवार को बंधक बनाकर लाखों की हुई  लूट, सीसीटीवी का ये वीडियो हुआ वायरल

नई दिल्ली। मध्य दिल्ली के आईपी एस्टेट स्थित माता सुंदरी रोड इलाके में दिनदहाड़े एक घर में घुसे बदमाश परिवार को बंधक बनाकर नकदी और जेवर लूटकर फरार हो गए। आईपी एस्टेट थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। '


पुलिस के मुताबिक मोटर मौकेनिक जुल्फिकार अली परिवार के साथ 27-बी, डीडीए फ्लैट में रहते हैं। बृहस्पतिवार को घर में उनकी पत्नी फरहाना, दिव्यांग मां रिहाना व शादीशुदा बहन निशा थीं। घर का दरवाजा खुला था। शाम करीब 4.15 बजे उनके घर में एक महिला व तीन लड़के घुस गए और पिस्टल व चाकू दिखाकर सबको बंधक बना लिया। आरोपियों ने महिलाओं से सोने की चेन, अंगूठियां, कुंडल आदि जेवर लूट लिए। बुजुर्ग रिहाना के पास रखे सात हजार रुपये लूट लिये। लूटपाट के दौरान जुल्फिकार का 11 वर्षीय बेटा हुसैन घर पहुंचा तो फरहाना ने उसे बाहर चले जाने को कहा। बदमाशों को लगा कि हुसैन शोर मचा देगा। वह परिवार को जान से मारने की धमकी देकर भाग गए।
इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई। कुछ ही देर में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी और क्राइम टीम मौके पर जा पहुंची। छानबीन के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। हालांकि पुलिस शुरुआती जांच के बाद मामले को संदिग्ध बता रही है। पुलिस का कहना है कि पीड़ित परिवार की किसी से रंजिश चल रही है। परिवार उस पर ही वारदात को अंजाम देने का आरोप लगा रहा है।


इतने साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म , गार्ड हुआ गिरफ्तार

इतने  साल की बच्ची के साथ हुआ  दुष्कर्म , गार्ड  हुआ गिरफ्तार

विस्तार केंद्रशासित प्रदेश दादर और नगर हवेली, दमन और दीव के दमन जिले में एक सरकारी अस्पताल में 11 साल की लड़की से दुष्कर्म करने के आरोप में एक सुरक्षा गार्ड को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। दमन थाने के एक अधिकारी ने बताया कि बच्ची अपनी मां के साथ थी, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। यह घटना 11 जनवरी को मारवाड़ सरकारी अस्पताल में हुई थी। आरोपी ने कथित तौर पर लड़की को पानी देने के बहाने सुनसान कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

अधिकारी ने कहा कि अपराध के बारे में जानने के बाद एक पुलिस टीम अस्पताल पहुंची। सुरक्षा गार्ड फरार था, इसलिए हमने कई दलों का गठन किया और उसे बस अड्डे से तब पकड़ लिया जब वह कल रात जिले से भागने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान प्रशांत कुमार के रूप में हुई है जो बिहार का रहनेवाला है।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 376 (ए) (बी) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि स्थानीय अदालत ने आरोपी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। आगे की जांच जारी है।