किशोरी बकरियां चराने घर से निकली थी, छोटी बहन के सामने युवक भगा ले गया, शादी से पहले पुलिस पहुंची

किशोरी बकरियां चराने घर से निकली थी, छोटी बहन के सामने युवक भगा ले गया, शादी से पहले पुलिस पहुंची

पुलिस ने बाड़मेर से भागे प्रेमी-प्रेमिका को जोधपुर से पकड़ लिया है। पुलिस दोनों को बाड़मेर लेकर आ गई है। युवती के बयान दर्ज कराने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। युवक से पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस के अनुसार वे जोधपुर में शादी करने वाले थे। हालांकि इस मामले में युवती के भाई ने युवक के खिलाफ बहन को भगा ले जाने का मामला दर्ज कराया है।

पुलिस के अनुसार 18 नवंबर को भाई ने सदर पुलिस थाने में रिपोर्ट दी कि उसकी 19 वर्षीय बहन गांव में बकरियां चराने के गई थी। उसके साथ में छोटी बहन भी थी। बकरियां चराने के दौरान चूनाराम आया और भगा कर ले गया।

बाड़मेर से सूरत पहुंचे, फिर जोधपुर
हेड कांस्टेबल पूनमचंद ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि युवती और युवक सूरत में हैं। टीम सूरत पहुंची। वहां पहुंचने पर जानकारी मिली की दोनों बस में बैठकर अहमदाबाद से जोधपुर जा रहे हैं। वहां पर शादी करने वाले हैं। इस पर टीम ने जोधपुर तक पीछा किया। बुधवार को जोधपुर से दोनों को पकड़ बाड़मेर ले आए हैं। एसपी दीपक भार्गव के निर्देशन में सदर थानाधिकारी अनिल कुमार के नेतृत्व पुलिस ने हेड कांस्टेबल पूनमचंद कांस्टेबल भंवराराम की टीम ने दोनों को पकड़ा।


इतने साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म , गार्ड हुआ गिरफ्तार

इतने  साल की बच्ची के साथ हुआ  दुष्कर्म , गार्ड  हुआ गिरफ्तार

विस्तार केंद्रशासित प्रदेश दादर और नगर हवेली, दमन और दीव के दमन जिले में एक सरकारी अस्पताल में 11 साल की लड़की से दुष्कर्म करने के आरोप में एक सुरक्षा गार्ड को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। दमन थाने के एक अधिकारी ने बताया कि बच्ची अपनी मां के साथ थी, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। यह घटना 11 जनवरी को मारवाड़ सरकारी अस्पताल में हुई थी। आरोपी ने कथित तौर पर लड़की को पानी देने के बहाने सुनसान कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

अधिकारी ने कहा कि अपराध के बारे में जानने के बाद एक पुलिस टीम अस्पताल पहुंची। सुरक्षा गार्ड फरार था, इसलिए हमने कई दलों का गठन किया और उसे बस अड्डे से तब पकड़ लिया जब वह कल रात जिले से भागने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान प्रशांत कुमार के रूप में हुई है जो बिहार का रहनेवाला है।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 376 (ए) (बी) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि स्थानीय अदालत ने आरोपी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। आगे की जांच जारी है।