कोरोना टेस्ट के नाम पर लड़की के प्राइवेटर भाग से स्वाब के लिए सैंपल, मुद्दा हुआ दर्ज

कोरोना टेस्ट के नाम पर लड़की के प्राइवेटर भाग से स्वाब के लिए सैंपल, मुद्दा हुआ दर्ज

इन दिनों हर तरफ कोरोना वायरस ( coronavirus ) का प्रकोप है. इस महामारी (COVID-19) को लेकर कई लोग खौफ में जी रहे हैं. वहीं, कुछ लोगों को अब तक इस

वायरस को लेकर पूरी तरह जानकारी नहीं है. इसी कड़ी में महाराष्ट्र (Maharashtra) के एक बड़े हॉस्पिटल अमरावती ( Amravati Hospital ) में ऐसी शर्मनाक घटना घटी है, जिसने इन्सानियत को शर्मसार कर दिया है. कोरोना टेस्ट (corona Test) के बहाने यहां के प्रयोगशाला टेक्निशियन ( Lab Technician ) ने एक लड़की के प्राइवेटर भाग ( Private Part ) से स्वाब के सैंपल ले लिए. इस घटना के खुलासे से सारे हॉस्पिटल (Hospital) में हड़कंप मच गया है. वहीं, पुलिस (Mumbai Police) ने आरोपी को अरैस्ट कर लिया है व मुद्दे की छानबीन की जा रही है.

हॉस्पिटल में लड़की के साथ घिनौनी हरकत

जानकारी के मुताबिक, अल्पेश अशोक देशमुख ( Alpesh Ashok Deshmukh ) नामक शख्स अमरावती हॉस्पिटल के कोरोना (COVID-19) ट्रामा सेंटर ( Trauma centre ) में प्रयोगशाला टेक्नीशियन है. वहीं, 24 वर्षीय पीड़ित लड़की हॉस्पिटल के एक सर्विस सेंटर में कार्य करती है. विभाग में एक कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव ( corona Positive ) पाया गया था, जिसके बाद विभाग के सभी कर्मचारियों को 28 जुलाई को कोरोना टेस्ट के लिए बोला गया. पीडि़त लड़की भी टेस्ट कराने के लिए पहुंची थी. टेस्ट के दौरान आरोपी अल्पेश देशमुख ( Alpesh Deshmukh ) ने बोला कि कोरोना के सटीक परिणाम के लिए प्राइवेट भाग से सैंपल लेना महत्वपूर्ण है. लड़की को इस बारे में जानकारी नहीं दी थी, इसलिए उन्होंने कोई असहमति नहीं जताई. इसके बाद वह अपने घर चली आई. घर पर पीड़ित लड़की ने अपने भाई से इस बात पर चर्चा की. भाई को संदेह हुआ तो उसने डॉक्टर्स से इस बारे में जानकारी ली. लेकिन, डॉक्टर्स ( Doctors ) ने बोला कि ऐसा कोई नियम नहीं है.

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

इसके बाद पीड़ित परिवार ने पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने आरोपी के विरूद्ध बलात्कार ( Rape ) का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को अरैस्ट कर लिया है व मुद्दे की छानबीन प्रारम्भ कर दी है. फिलहाल, आरोपी से पूछताछ की जारी है. वहीं, इस घटना से सारे हॉस्पिटल में सनसनी मच गई है. इधर, इस घटना को लेकर महिला व बाल विकास मंत्री यशोमति ठाकुर (Yashomati Thakur) ने बोला कि आरोपी के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगा. यहां आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इससे पहले भी इस महामारी की आड़ में कई स्त्रियों के साथ छेड़छाड़ व बलात्कार की घटनाएं सामने आ चुकी है.