दहेज में नहीं मिली बाइक तो शादी के 3 महीने बाद प्रिया को ससुराल में मिली मौत

दहेज में नहीं मिली बाइक तो शादी के 3 महीने बाद प्रिया को ससुराल में मिली मौत

बोकारो झारखंड में एक नवविवाहिता की विवाह के महज तीन महीने बाद ही मर्डर कर दी गई 21 वर्ष की इस स्त्री के हाथों की मेहंदी के रंग अभी उतरे भी नहीं थे कि घरवालों को कफन में लिपटी उसकी मृत शरीर मिला मामला बोकारो जिला से जुड़ा है जहां के चंदनकियारी थाना क्षेत्र की सहरजोरी गांव के टोला हाड़ाईकुरुवा में ये घटना हुई यहां 21 वर्षीय नवविवाहिता दहेज की बलि पर चढ़ा दी गई नवविवाहिता की संदेहास्पद स्थिति में मृत्यु हुई है जिसके बाद मृतका के पिता धर्मेंद्र रेवानी ने मर्डर का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया है

मृतका प्रिया कुमारी के पिता ने इस मुद्दे मे पति दीपक रेवनी, ससुर झंगू रेवानी, देवर जयदेव रेवानी एवम सास के खिलाफ मिलकर मर्डर करने का मुकदमा दर्ज कराया है इस मुद्दे में पुलिस द्वारा पति, ससुर एवम सास को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है घटना के संबंध में धनबाद जिले के महुदा थाना के भूरूंगिया निवासी धर्मेंद्र रेवानी ने बताया कि उनकी पुत्री प्रिया कुमारी की विवाह विगत 2 मई 2022 को हिन्दू रीति रिवाज से हुई थी विवाह के समय कपड़ा बर्तन समेत लगभग पचास हजार दहेज दिया गया था

बीच में एक लाख रुपए एवम मोटर साइकिल की मांग दहेज के रुप में की जा रही था इसी बीच विगत 6 अगस्त के शाम को मृतका प्रिया का आभूषण ससुराल में खोल लिया गया था, जिसके कारण टकराव बढ़ा था इसके बाद ससुराल वालों से मायके के लोगों की इस संबंध में एक-दो बार वार्ता भी हुई थी लेकिन इसके बाद 7 अगस्त को ससुराल से पुत्री के मरने की सूचना मिली

मायके पक्ष ने उनके पहुंचने के पूर्व मृत शरीर बरामद करने पर पुलिस के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए थाना परिसर में हंगामा किया जिसे थाना प्रभारी चंचल कुमार शुक्ला ने समझा बुझाकर शांत किया इस घटना के पूर्व सुसराल एवम मायके में एक दो बार पंचायती होने की बात सामने आयी है जानकारी के अनुसार 3 अगस्त को पंचायती के बाद मृतका अपने मायके से ससुराल आई थी इस मुद्दे में आरोपी बनाये गए सुसराल पक्ष के लोगों ने पुलिस को बताया कि प्रिया की मर्डर नहीं की गई है बल्कि फांसी लगाकर उसने खुदकुशी की है पुलिस ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट और अनुसंधान के बाद सब कुछ साफ़ हो सकता है