आरोपी के पिता का बयान- बेटे को हो फांसी की सजा

आरोपी के पिता का बयान- बेटे को हो फांसी की सजा

 हैदराबाद में एक महिला चिकित्सक के साथ हुई हवस के मुद्दे में सारे देश का गुस्सा उबाल मार रहा है. सड़क से लेकर संसद तक घमासान मचा हुआ है. गैंगरेप व मर्डर को अंजाम देने वाले दरिंदों को फांसी के फंदे पर लटकाए जाने की मांग लगातार उठ रही है. इस बीच पहली बार चारों आरोपियों के परिजन मीडिया के सामने आए हैं व अपनी-अपनी रिएक्शन दी है.

चार में से तीन अभियुक्त हैं एक ही गांव के

एक मीडिया चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला चिकित्सक के साथ गैंगरेप व उसकी मर्डर करने वाले चार में से तीन दरिंदे एक ही गांव के हैं व ये गांव राजधानी हैदराबाद से क़रीब 160 किलोमीटर दूर है. वहीं चौथे अभियुक्त का गांव भी उसके पास में ही है. अभियुक्तों के गांव में अभी ज्यादा लोगों को इस घटना के बारे में जानकारी नहीं है. गांव में ये समाचार तब फैली जब कुछ अभियुक्तों को पकड़ने के लिए पुलिस ने वहां दबिश दी.

आरोपी के पिता का बयान- बेटे को हो फांसी की सजा

रिपोर्ट के मुताबिक, गांव के लोगों को अभी तक इस घटना को लेकर यकीन नहीं हो रहा है कि उनके गांव के लड़कों ने इस घटना को अंजाम दिया है. वहीं चौथे अभियुक्त के पिता ने तो पीड़िता के समर्थन में आवाज उठा दी है. अभियुक्त के पिता का बोलना है कि मेरे दो बेटे व एक बेटी है, अगर मेरी बेटी के साथ ऐसी कोई घटना होगी तो जाहिर सी बात है मैं चुपचाप नहीं बैठूंगा, इसलिए मैं चाहता हूं कि अगर मेरे बेटे ने ऐसा किया है तो उसे फांसी की सजा होनी चाहिए. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि जिस पिता ने ये बयान दिया है वो दिहाड़ी मेहनतकश हैं.

मैं अपने बेटे के लिए नहीं करूंगा कोई वकील- आरोपी के पिता

अभियुक्त के पिता ने आगे बोला है कि उनकी अपने बेटे से आखिरी बात 28 नवंबर की रात को हुई थी, जब वह कार्य से घर लौटा था. उनका बोलना है कि अगर मेरे बेटे ने गलत किया है तो उसे उसकी सजा मिलनी चाहिए, मैं अपने बेटे को बचाने के लिए बिल्कुल भी पैसा व अपना समय खर्च नहीं करूंगा, मेरी इतनी हैसियत भी नहीं कि मैं एडवोकेट कर सकूं.