युवक ने ले ली अपनी ही भाभी की जान, यह हैं कारण

 युवक ने ले ली अपनी ही भाभी की जान, यह हैं कारण

हाल ही में क्राइम का जो मुद्दा सामने आया है वह मध्य प्रदेश के बड़वानी का है। इस मुद्दे में अंधविश्वास के चलते एक युवक ने अपनी ही भाभी की जान ले ली है। इस मुद्दे में पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर आरोपी ने सहज भाव से अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक बीते सोमवार को आरोपी निवासी ग्राम बोम्या ने पुलिस हिरासत में बोला कि, ''लक्ष्मीबाई उसकी दूर के संबंध की भाभी थी, उसका आरोपी के घर आना-जाना था। ''

इस मुद्दे में आरोपी ने बताया कि- 'मेरी पत्नी व बेटी की तबीयत अकसर बेकार रहती थी। एक माह पूर्व पेड़ से गिरकर मेरा भाई भी घायल हो गया था। तब से मुझे शंका होने लगी थी कि लक्ष्मीबाई जादू-टोना करती है। इसके चलते मैंने फावड़े से सिर पर वार करके उसकी मर्डर कर दी। ' बीते सोमवार को पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी डीआर तेनीवार ने बताया कि, '28 नवंबर की रात आरोपी विक्रम नशे में था। वह लक्ष्मीबाई के घर पहुंचा। उससे वार्ता की व पास ही पड़े फावड़े से उसके सिर पर वार कर दिया। '

वहीं आगे उन्होंने बोला इसके बाद आरोपित मौके से फरार हो गया व सूचना पर रात को ही पुलिस ने मौके पर पहुंच निरीक्षण किया। वहीं आगे एसपी ने बताया कि, 'घटना के अगले दिन मैं भी मौके पर पहुंचा था। घटनास्थल पर एक पीला गमछा मिला, जिसके बारे में थाना प्रभारी ने पूछताछ की तो परिजन ने अपना होने से इंकार कर दिया। ' वहीं इस मुद्दे में पुलिस को संदेह हुआ कि गमछा आरोपित का ही है व आगे जानकारी ली तो पता चला कि ऐसा गमछा विक्रम के पास होता है। उसके बाद सारा केस घूमकर उसके पास पहुँच गया व उसने अपना क्राइम स्वीकार कर लिया।