महिला सशक्तिकरण से सामाजिक बदलाव विषय पर आयोजित दो दिवसीय स्त्रियों के "नेशनल कॉन्वेशन प्रोग्राम"

महिला सशक्तिकरण से सामाजिक बदलाव विषय पर आयोजित दो दिवसीय स्त्रियों के "नेशनल कॉन्वेशन प्रोग्राम"

साकेत गोयल/सीरोही: देश के राष्ट्रपति महामहिम रामनाथ कोविन्द 6 दिसम्बर को सिरोही जिले के आबू रोड के तलहटी स्थित ब्रह्माकुमारीज संस्थान आयेंगे। संस्थान के शांतिवन में महिला सशक्तिकरण से सामाजिक बदलाव विषय पर आयोजित दो दिवसीय स्त्रियों के नेशनल कॉन्वेशन प्रोग्राम का उदघाटन करेंगे। इस मौके पर राजस्थान के गवर्नर कलराज मिश्र भी शिरकत करेंगे।  

ब्रह्माकुमारीज संस्था के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय तथा सूचना निदेशक बीके करूणा ने बताया कि इस प्रोग्राम में देशभर से बड़ी संख्या में महिलायें भाग ले रही हैं। माननीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ब्रह्माकुमारीज संस्थान की प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी से भी मुलाकात करेंगे। इसके लिए शांतिवन स्थित डायमंड हॉल में सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं। साथ ही, महिला सशक्तिकरण द्वारा सामाजिक बदलाव विषय पर आयोजित सम्मेलन में देशभर से नामचीन महिलायें भी भाग ले रही हैं। इस सम्मेलन में राष्ट्पति द्वारा नारी शक्ति अवार्ड से सम्मानित ज़िंदगी प्रबन्धन विशेषज्ञ व मोटीवेशनल स्पीकर बीके शिवानी भी सम्बोधित करेंगी।
  
इस नेशनल कन्वेंशन में स्त्रियों की गरिमा व आत्म विश्वास को बढ़ावा देना, स्त्रियों के विरूद्ध हिंसा के मुद्दों पर चर्चा, बालिका एजुकेशन को बढ़ावा देना, ग्रामीण स्त्रियों का आध्यात्मिक सशक्तिकरण, महिला स्वास्थ्य व कल्याण के लिए जागरुकता लाने के लिए राष्ट्रीय अभियान का आगाज किया जायेगा। डायमंड हॉल में आयोजित इस प्रोग्राम में करीब पांच हजार से ज्यादा लोग भाग लेंगे।  

बता दें कि, स्त्रियों द्वारा संचालित दुनिया का सबसे बड़ा संस्थान: ब्रह्माकुमारीज संस्थान दुनिया का पहला ऐसा संस्थान है, जिसका संचालन महिलायें करती हैं। इस संस्थान की स्थापना 1937 में खुद परमपिता परमात्मा शिव ने प्रजापिता ब्रह्मा बाबा के साकार माध्यम द्वारा की थी। जिसका अन्तर्राष्ट्रीय मुख्यालय माउण्ट आबू राजस्थान  है।