यूपी: अखिलेश यादव की अपील, हर महीने की 30 तारीख को 'हाथरस की बेटी स्मृति दिवस' मनाएं

यूपी: अखिलेश यादव की अपील, हर महीने की 30 तारीख को 'हाथरस की बेटी स्मृति दिवस' मनाएं

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सपा व सहयोगी दलों से अपील की है कि हर महीने की 30 तारीख को 'हाथरस की बेटी स्मृति दिवस' मनाएं और भाजपा की वास्तविकता उजागर करें।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेशवासियों, सपा व सहयोगी दलों से अपील है कि हर महीने की 30 तारीख को 'हाथरस की बेटी स्मृति दिवस' मनाएं और प्रदेश की भाजपा सरकार ने 30-09-20 को जिस अभद्र तरीके से दुष्कर्म पीड़िता के शव को जलाने का जो कुकृत्य किया था उसकी याद दिलाएं।

उन्होंने कहा कि इससे भाजपा का दलित व महिला विरोधी चेहरा बेनकाब करें।


UP Crime: मेरठ के खरखौदा के खेत में संदूक में मिली युवती की लाश

UP Crime: मेरठ के खरखौदा के खेत में संदूक में मिली युवती की लाश

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ (Meerut) के खरखौदा इलाके के अंतराड़ा के खेत में एक संदूक में युवती की लाश मिली है. रविवार सुबह जब लोग खेत में पहुंचे और उन्होंने खेत में लाश देखी तो पुलिस को इसकी जानकारी दी. इस घटना की जानकारी मिलने के बाद फोरेंसिक टीम और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे. पुलिस का कहना है कि युवती की हत्या कहीं और करने के बाद लाश को यहां पर फेंका गया और पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि फिलहाल मृतका की पहचान नहीं हो पाई है.

जानकारी के मुताबिक रविवार को सुबह करीब नौ बजे अंतराड़ा में काली नदी के पास साबू के खेत में लोहे का डिब्बा पड़ा मिला और इस पर खून देखने के बाद जब उसे खोला तो अंदर एक युवती की लाश ती. उसने इसकी जानकारी स्थानीय लोगों और पुलिस को दी. जानकारी मिलने के बाद एसपी देहात केशव कुमार, एएसपी चंद्रकांत मीणा और फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस अधिकारियों के अनुसार मृतका की उम्र 25 वर्ष के आसपास है और वह अविवाहित है. उसकी गला दबाकर हत्या की गई, फिर शव को यहां लाकर फेंक दिया गया. अभी तक युवती की शिनाख्त नहीं हो पाई है. युवती की हत्या के मामले में फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल और धड़ से कुछ फिंगर प्रिंट एकत्र किए हैं और इस मामले में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है.

दो दिन पहले हत्या किए जाने का शक

पुलिस और फोरेंसिक टीम द्वारा जांच के बाद कहना है कि युवती की हत्या दो दिन पहले की गई होगी. क्योंकि लाश की स्थिति को देखकर लग रहा है कि दो दिन पहले उसकी हत्या की गई और उसके बाद लाश को कहीं रखा गया और उसके बाद यहां पर लाकर फेंक दिया गया. अटकलें लगाई जा रही हैं कि लाश एक दिन से ज्यादा समय तक घर में ही पड़ी रही होगी और उसके बाद उसे बक्से में फेंक दिया गया. पुलिस का कहना है कि कम से कम 40 घंटे पहले उसकी हत्या की गई होगी। वहीं पुलिस का कहना है कि उसकी हत्या गला दबाकर की गई है और संभव है कि उसे पहले शराब भी पिलाई गई. हालांकि सभी सवालों से परदा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही उठ सकेगा.

कई सोशल मीडिया ग्रुप में भेजी युवती की तस्वीर

दरअसल अभी तक युवती की शिनाख्त नहीं हो सकी है और पुलिस और आसपास के लोगों ने इलाके के करीब 300 ग्रुपों में युवती की तस्वीर को शेयर किया है. ताकि उसके बारे में कुछ जानकारी मिल सके. इसके साथ ही युवती की फोटो मेरठ पुलिस ने दूसरे जिलों में भी भेजी है.