यूपी पुलिस ने ट्वीट में लिखा, "आंकड़े अपनी बात खुद ही कह देते"

यूपी पुलिस ने ट्वीट में लिखा, "आंकड़े अपनी बात खुद ही कह देते"

हैदराबाद (Hyderabad) में महिला के आरोपियों को शनिवार प्रातः काल एनकाउंटर (encounter) में मार गिराया गया। इस रिएक्शन देते हुए बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बोला कि हैदराबाद पुलिस से उत्तर प्रदेश पुलिस को प्रेरणा लेनी चाहिए। मायावती के इस बयान पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने जवाब दिया है।  

यूपी पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर लिखा है कि आंकड़े खुद को साबित करते हैं। प्रदेश में जंगलराज बीते समय की बात है। जो अब नहीं है। पिछले दो वर्षों में 103 क्रिमिनल मारे गए हैं व 1859 क्रिमिनल एनकाउंटर के दौरान अरैस्ट किए गए हैं। 17745 अपराधियों ने खुद ही आत्म समर्पण कर दिया है या अपनी बेल समाप्त करवाई है। बहुत कठिन है प्रदेश का अतिथि बनने में।  

यूपी पुलिस ने ट्वीट में लिखा है कि आंकड़े अपनी बात खुद ही कह देते हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस ने लिखा कि प्रदेश में जंगलराज अतीत की बात थी। दो सालों में 103 क्रिमिनल मारे गए हैं व 5175 एनकाउंटर ों में 1859 घायल हुए हैं, वहीं, 17745 अपराधियों ने सेरेण्डर किया है या अपनी जमानत खारिज करवा ली है।

ने बोला था कि उत्तर प्रदेश पुलिस व दिल्ली पुलिस को हैदराबाद पुलिस से प्रेरणा लेनी चाहिए। पूर्व सीएम ने आरोप लगाया कि यूपी में स्त्रियों के विरूद्ध क्राइम बढ़ रहे हैं लेकिन प्रदेश सरकार सो रही है। मायावती ने कहा, 'उत्तर प्रदेश में स्त्रियों के विरूद्ध क्राइम बढ़ रहे हैं लेकिन प्रदेश सरकार सो रही है। यहां की पुलिस व दिल्ली पुलिस को हैदराबाद पुलिस से प्रेरणा लेनी चाहिए लेकिन यहां अपराधियों से प्रदेश के मेहमानों की तरह व्यवहार किया जाता है। उत्तर प्रदेश में इस वक्त जंगल प्रदेश है। '