लखनऊ में जाम से राहत इंडस्ट्रियल एरिया का होगा विकास

लखनऊ में जाम से राहत इंडस्ट्रियल एरिया का होगा विकास

लखनऊ. शहर के औद्योगिक क्षेत्रों को जाम मुक्त बनाने के लिए सड़कें चौड़ी की जाएंगी. इसके अनुसार सबसे पहले तुलसीदास मार्ग और तालकटोरा रोड औद्योगिक क्षेत्र में सड़क चौड़ीकरण का प्रस्ताव बनाया गया है, जबकि ऐशबाग में सर्वे प्रारम्भ हो गया है. इन इलाकों में दोनों तरफ सड़कें पांच-पांच मीटर तक चौड़ी की जाएंगी. डीएम सूर्यपाल गंगवार के निर्देश पर लोनिवि ने चौड़ीकरण प्रस्ताव तैयार कर लिया है.

तालकटोरा रोड औद्योगिक क्षेत्र और इससे जुड़े तुलसीदास मार्ग, ऐशबाग क्षेत्र में काफी जाम लगता है. यहां छोटे-बड़े लगभग 350 उद्यम हैं. उद्यमी भी यहां जाम से परेशान हैं और सड़कें चौड़ी करने के लिए लंबे समय से मांग कर रहे हैं. लोनिवि के सर्वे अनुसार यहां सड़क चौड़ी करने में अड़चन नहीं है. गैर कानूनी कब्जे तोड़कर ऐसा किया जा सकता है. उद्यमियों की मांग थी कि सड़क डिवाइडर से दोनों ओर 10-10 मीटर चौड़ी की जाए, जबकि सर्वे में डिवाइडर से दोनों तरफ 13-13 मीटर सड़कें चौड़ी का प्रस्ताव है. लोनिवि के प्रांतीय खंड के अधिशासी अभियंता मनीष वर्मा ने रिपोर्ट डीएम को सौंप दी है.

ऐसे होगा काम
अभी सड़क की चौड़ाई डिवाइडर से दोनों ओर लगभग आठ मीटर है.
– लोनिवि के प्रस्ताव मुताबिक प्रस्तावित चौड़ाई डिवाइडर से 13-13 मीटर है.
– सड़क के दोनों तरफ एक-एक मीटर तक चौड़ा नाला भी बनाया जाना है.
– सड़क के दोनों तरफ दो-दो मीटर तक चौड़ा इंटरलॉकिंग फुटपाथ भी होगा.

सर्वे का काम पूरा, हटेगा अतिक्रमण
तालकटोरा इंडस्ट्रियल एस्टेट इंडस्ट्रीज ओनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष, यूनुस सिद्दीकी ने बोला कि एक-एक किमी लंबा जाम लगता है. सड़क चौड़ी करने के लिए तीन साल से कोशिश कर रहे थे. नए डीएम ने काफी सार्थक कोशिश किया, जिससे चौड़ीकरण का रास्ता खुला है. लोक निर्माण विभाग, प्रांतीय खंड, अधिशासी अभियंता, मनीष वर्मा ने बताया इंडस्ट्रियल एरिया की सड़कों का सर्वे करा लिया गया है. चौड़ीकरण के लिए पर्याप्त जमीन है, जहां कब्ज़ा है, उसे तोड़ा जाना है. एस्टीमेट बनाया जा रहा है. बजट मंजूर होते ही टेंडर करवाकर काम प्रारम्भ करा देंगे. भारतीय इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, पूर्व सचिव, विकास खन्ना बोले- जाम बहुत बड़ी परेशानी है. लम्बे समय से सड़क चौड़ी करने की मांग थी. कई बार ज्ञापन भी दिया. मांग पूरी होने जा रही है, यह बहुत अच्छी बात है.