ममता राकेश के सवाल के जवाब में सरकार ने बताया, "प्रदेश में डेंगू से सिर्फ आठ रोगियों की मृत्यु हुई "

ममता राकेश के सवाल के जवाब में सरकार ने बताया, "प्रदेश में डेंगू से सिर्फ आठ रोगियों की मृत्यु हुई "

सदन में भगवानपुर विधायक ममता राकेश के सवाल के जवाब में सरकार ने बताया कि प्रदेश में डेंगू से सिर्फ आठ रोगियों की मृत्यु हुई है. सरकार का यह आंकड़ा विपक्ष के गले नहीं उतरा. नेता प्रतिपक्ष डाक्टर इंदिरा हृदयेश ने बोला कि हल्द्वानी में ही डेंगू से 25 से अधिक लोगों की मृत्यु हुई. संसदीय कार्यमंत्री मदन कौशिक का बोलना था अधिकांश रोगियों की मृत्यु अन्य बीमारियाें से हुई है.

प्रश्नकाल में ममता राकेश ने सरकार से पूछा था कि डेंगू से प्रदेश में कई मौतें हुईं हैं, इस मुद्दे में सरकार कोई मुआवजा देगी? संसदीय कार्यमंत्री मदन कौशिक ने बताया कि प्रदेश में डेंगू से सिर्फ आठ मौतें हुई हैं. सरकार ने एलाइजा टेस्ट के सकारात्मक परिणाम सामने आने के बाद पीड़ितों के निधन के आंकड़ों की पुष्टि के लिए मुख्य चिकित्साधिकारियों को जाँच के लिए बोला था.

नेता प्रतिपक्ष ने सरकार पर इस मुद्दे को बहुत हल्के में लेने का आरोप लगाया व बोला कि विपक्ष इस मुद्दे को लेकर विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव लाएगी. सरकार सदन को गलत जानकारी दे रही है. सत्ता पक्ष के विधायक महेंद्र भट्ट, विकासनगर विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने भी इस मुद्दे को लेकर सवाल पूछे.

सतपाल महाराज भी घिरे, कहा- जवाब दे दिया जाएगा

सिंचाई क्षमता बढ़ाने से पैदावार में वृद्धि के सवाल पर सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज भी सदन में घिरे हुए नजर आए. धनोल्टी विधायक प्रीतम पंवार ने पूछा कि उत्पादन कितना बढ़ा. महाराज ने बोला जवाब बाद में दे दिया जाएगा. मंत्री ने ड्रिप इरिगेशन पर कृषि मंत्री को भी सुझाव दिया कि वे इस विधि को अपनाएं, इससे खेती को लाभ होगा. पीएम सिंचाई योजना में धन आवंटन का जवाब भी महाराज ने बाद मेें दिया.

मसूरी, नैनीताल की पार्किंग समस्या सुलझाएंगे

झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल ने पूछा कि प्रदेश में विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए सरकार क्या कर रही है. महाराज ने बताया कि ऋषिकेश में योग महोत्सव आयोजित किए गए. अनुपूरक में नेता प्रतिपक्ष ने नैनीताल व गणेश जोशी ने मसूरी में पार्किंग की समस्या को उठाया.

महाराज ने बताया कि नैनीताल में रोप वे बनाया जा रहा है. दिलीप रावत ने लैंसडाउन के विकास पर सवाल पूछा. महाराज ने बोला कि लैंसडाउन में कैंट क्षेत्र होने के कारण सरकार स्वतंत्र रूप से फैसला नहीं ले पाती. महाराज ने लिखित उत्तर में पर्यटन से आय बढ़ाने में होम स्टे योजना, विदेशों में ट्रेवल मार्ट में प्रतिभाग करने आदि का जिक्र किया.

भूजल स्तर गिरा, सरकार को जमरानी पर भरोसा

जसपुर विधायक आदेश चौहान ने पूछा कि जसपुर में तेजी से भू जल स्तर गिर रहा है. कई नलकूप फेल हो रहे हैं. सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने स्वीकार किया कि कई नलकूपों में गर्मियों में पानी कम हो जाता है. बरसात में जल स्तर बढ़ जाता है.

महाराज ने बोला कि कुमाऊं में जमरानी बांध बन जाने पर इस समस्या का निवारण होगा. कालाढुंगी विधायक बंशीधर भगत व भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा ने क्षतिग्रस्त नहरों का मामला उठाया. महाराज ने बोला कि इन नहरों के लिए धन आवंटन पर विचार किया जाएगा.

छात्रवृत्ति के भौतिक सत्यापन में कर्मियों की कमी

सत्ता पक्ष के टिहरी विधायक धन सिंह नेगी ने पूछा कि छात्रवृत्ति को विद्यार्थियों में हस्तांतरित करने की व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए आईटी का उपयोग होगा. समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने बोला कि भौतिक सत्यापन के लिए विभाग के पास कर्मियों की कमी है, अधियाचन भेजा जा चुका है. छात्रवृत्ति बैंक खातों में ट्रांसफर की जा रही है. कुछ मामलों में अड़चन सामने आई है.

बाढ़ से प्रभावितों को मुआवजा देने पर विचार

सत्ता पक्ष के हरिद्वार ग्रामीण के विधायक स्वामी यतीश्वरानंद ने पूछा कि गंगा व सहायक नदियों के कारण हो रहे भू कटाव से प्रभावित लोगों को मुआवजा दिया जाएगा. सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने बोला कि संसाधन की उपलब्धता होगी तो मुआवजा देने पर विचार किया जा सकता है.

नशे का बढ़ता कारोबार, विभागों में तालमेल की कमी

कांग्रेस पार्टी के चकराता विधायक प्रीतम सिंह के सवाल के जवाब में समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने स्वीकार किया कि प्रदेश में नशावृत्ति में लगातार इजाफा हो रहा है. मुन्ना सिंह चौहान ने पूछा कि अंतर्राज्यीय सीमाओं पर नशे के कारोबारियों को रोकने के लिए विभिन्न विभागों में तालमेल है? सत्ता पक्ष के वरिष्ठ विधायक हरबंश कपूर ने भी बोला कि तालमेल के बिना रोकथाम नहीं हो पाएगी. चौहान के सवाल पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बोला कि चकराता में सेना की इनर लाइन से कुछ क्षेत्रों को बाहर करने पर केन्द्र से बात की जाएगी.

ठेकेदार के मुद्दे में जाँच होगी


सत्ता पक्ष के विधायक पूरन फर्तयाल ने सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज से पूछा कि लोक निर्माण विभाग के ब्लैक लिस्ट ठेकेदार को सिंचाई विभाग क्या ठेका देगा? महाराज ने बोला कि लोक निर्माण विभाग से सूचना मिली तो उक्त ठेकेदार को भी काली सूची में डाला जाएगा. फर्तयाल संतुष्ट नहीं हुए तो महाराज ने इस मुद्दे में जाँच कराने का आश्वासन दिया.

खास बातें

  • नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश व ममता राकेश ने डेंगू से मौतों के आंकड़ों को बताया फर्जी
  • सरकार ने माना, बढ़ रही है नशाखोरी, सिंचाई, समाज कल्याण, पर्यटन से संबंधित सवाल उठे