रीजनल ट्रेन पहली बार ट्रैक पर दौड़ी, तीन माह चलेगा ट्रायल

रीजनल ट्रेन पहली बार ट्रैक पर दौड़ी, तीन माह चलेगा ट्रायल

नई दिल्‍ली राष्ट्र की रीजनल ट्रेन ट्रैक पर पहली बार दौड़ी हालांकि अभी इसका ट्रायल प्रारम्भ नहीं हुआ है, यह टेस्‍ट रन है, जो अब दुहाई डिपो के अंदर लगातार चलता रहेगा नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) के सीएमडी और अन्‍य ऑफिसरों की मौजूदगी में करीब 500 मीटर ट्रेन ट्रैक पर दौड़ी

एनसीआरटीसी के इंजीनियरों की करीब 55 दिन की कड़ी मेहतन के बाद यह ट्रेन दौड़ी है यह ट्रेन सेट 13 जून को गाजियाबाद के दुहाई डिपो पर पहुंच गया था इसके बाद इसे असेंबल कर टेस्‍ट रन के लिए इंजीनियरों में काम प्रारम्भ कर दिया था  ट्रैक पर सफल टेस्‍ट रन होने के बाद ऑफिसरों और इंजीनियरों ने एक दूसरे को शुभकामना दी

एनसीआरटीसी के जनसंपर्क अधिकारी राजीव चौधरी ने बताया कि ट्रेन का टेस्‍ट रन अब डिपो पर लगातार चलता रहेगा आसार है कि इस साल अंत तक17 किमी लंबे पहले खंड पर ट्रेन का ट्रायल ट्रैक पर पूरी तरह से प्रारम्भ हो जाएगा उन्‍होंने बताया टेस्‍ट रन पूरी तरह से सफल रहा है अब यह नियमित रूप में होगा

एक स्‍टेशन तैयार,दो पर फिनशिंग का काम जारी

एनसीआरटीसी के मुताबिक रैपिड रेल के पहले खंड पर निर्माण संबंधी 95 प्रतिशत से अधिक काम पूरा हो चुका है पांच स्टेशनों में से दुहाई डिपो स्टेशन तैयार हो गया है, वहीं, साहिबाबाद और गुलधर स्टेशन में फिनिशिंग का काम चल रहा है मेरठ रोड तिराहा और दुहाई स्टेशन का काम अभी 80 प्रतिशत पूरा हो चुका है

तीन माह चलेगा ट्रायल

एनसीआरटीसी के मुताबिक इस साल अंत में प्रारम्भ होने वाला ट्रायल करीब तीन माह चलेगा इस दौरान कहीं तरह के ट्रायल होते हैं ट्रायल पूरे होने के बाद आसार कि मार्च 2023 में इसे आम लोगों के लिए चला दिया जाएगा