रेप के बदले रेप-जहर के बदले जहर में एक और केस

रेप के बदले रेप-जहर के बदले जहर में एक और केस

प्रयागराज में बलात्कार के बदले बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराने के मुद्दे लगातार जारी हैं. ठीक गलत की चिंता छोड़ पीड़िता के बयान पर पुलिस आरोपियों को कारागार भेजने में लगी है. इस बार भी मामला धूमनगंज क्षेत्र का है. गैंगरेप में दो भाइयों के कारागार जाने के बाद अब बलात्कार पीड़िता के भाई को पुलिस ने बलात्कार के क्रॉस मुकदमे में कारागार भेजा है.

धूमनगंज की एक स्त्री का शौहर इस दुनिया में नहीं है. प्रॉपर्टी को लेकर टकराव चल रहा है. पिछले वर्ष स्त्री ने अपने दोनों जेठ के विरूद्ध गैंगरेप की एफआईआर धूमनगंज थाने में दर्ज कराई थी. पुलिस को बताया कि संपत्ति बंटवारे के लिए दोनों जेठ ने उसे बुलाया और कमरे में गलत काम किया. पुलिस ने पीड़िता के बयान के आधार पर दो भाइयों को कारागार भेज दिया. इस कहानी में कुछ माह बाद नया मोड़ आया.

अब पीड़िता की जेठानी ने पुलिस से सहायता मांगी. उसने अपने पति पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली स्त्री के भाई पर बलात्कार और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज करा दिया. इस मुकदमा में भी पुलिस ने पीड़िता के बयान के आधार पर बलात्कार पीड़िता के भाई को अरैस्ट करके शनिवार को कारागार भेज दिया.

छेड़खानी की क्रॉस एफआईआर दर्ज
कर्नलगंज में एक मकान के टकराव में दो पक्षों का टकराव चल रहा है. पहले एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज कराया. आरोप लगाया कि मुख्तार अंसारी के नाम पर 10 लाख की रंगदारी मागी गई. इसके एक सप्ताह बाद कर्नलगंज पुलिस ने अब क्रॉस केस दर्ज कर लिया. इस बार एक स्त्री ने तीन पर मारपीट, छेड़खानी और डकैती की एफआईआर दर्ज कराई है.

कुछ दिन पहले ही एक बलात्कार पीड़िता की मां ने एसएसपी कार्यालय में जनसुनवाई के दौरान जहरीला पदार्थ खा लिया था. आरोप था कि बलात्कार का केस दर्ज कराने पर आरोपी की बहन ने उसके पति और दामाद पर बलात्कार का क्रॉस मुकदमा दर्ज कराया है. इस घटना के कुछ दिन बाद दूसरी बलात्कार पीड़िता ने भी फिनायल पीकर हंगामा किया था. उसने वीडियो वायरल करने का एक और केस दर्ज करा दिया है.