कांग्रेस पार्टी वर्चुअल के साथ ही विरोधियों पर जमीनी हमले की भी तैयारी कर रही, पढ़े

कांग्रेस पार्टी वर्चुअल के साथ ही विरोधियों पर जमीनी हमले की भी तैयारी कर रही, पढ़े

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव के बीच तमाम सियासी दल रणनीति बनाने में जुट गए हैं. ज्यादातर सियासी पार्टियां वर्चुअल (Virtual) माध्यम से चुनावी रणनीति बनाने व जनता से संवाद में जुटी हैं. 

वहीं कांग्रेस पार्टी (Congress) वर्चुअल के साथ ही विरोधियों पर जमीनी हमले की तैयारी भी कर रही है.

जनता से जुड़े मुद्दों पर सरकार पर हमला की रणनीति

पिछले महीने लगातार सरकार व उसकी नीतियों के साथ ही अन्य राज्यों से अपने प्रदेश लौटने वाले श्रमिकों के पक्ष में आंदोलन करने वाली कांग्रेस पार्टी अब एक बार फिर जनता से जुड़े मुद्दों पर सरकार पर हमला करने की रणनीति बनाने में लगी है. केंद्रीय आलाकमान से आदेश दिए गए हैं कि पार्टी पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को मामला बना जनता के बीच जाए.

आलाकमान का फरमान मिलते ही पार्टी ने सरकार के विरोध प्रदर्शन की रणनीति तैयार कर ली है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाक्टर मदन मोहन झा ने बताया कि आलाकमान के आदेश पर 29 जून को जिला मुख्यालयों पर पेट्रोल-डीजल की अप्रत्याशित वृद्धि व प्रदेश सरकार द्वारा उत्पाद शुल्क में वृद्धि के विरूद्ध पार्टी धरना-प्रदर्शन देगी.

30 जून से चार जुलाई तक प्रखंडों तक होगा आंदोलन

डाक्टर मदन मोहन झा ने बोला कि इसके साथ ही सभी प्रखंड एवं जिला कमेटी अध्यक्षों को लेटर भेज आदेश दिए गए हैं कि यह प्रोग्राम 30 जून से चार जुलाई के बीच प्रखंडों तक होगा. प्रदर्शन के बाद राष्ट्रपति के नाम जिलाधिकारी के माध्यम से स्मार लेटर दिया जाएगा.

लोगों को परेशानियों से मुक्त कराएगी कांग्रेस

डाक्टर झा ने बोला कि कांग्रेस पार्टी जनता के मुद्दों पर जनता से जुड़कर कार्य करने वाली पार्टी है. हम वर्चुअल माध्यम के साथ ही जनता से जुड़कर कार्य करने में भरोसा करते हैं. उन्होंने बोला इस सरकार की वजह से आज देश-प्रदेश का हर नागरिक कठिनाई में फंसा है. कांग्रेस पार्टी ऐसे लोगों को परेशानियों से मुक्त कराएगी.