तेजस्वी यादव ने 'नागरिकता संशोधन बिल' व 'एनआरसी' के विरूद्ध पार्टी नेता व समर्थकों के साथ बैठे धरने पर

 तेजस्वी यादव ने 'नागरिकता संशोधन बिल' व 'एनआरसी' के विरूद्ध पार्टी नेता व समर्थकों के साथ बैठे धरने पर

राजधानी पटना में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने 'नागरिकता संशोधन बिल' व 'एनआरसी' के विरूद्ध पार्टी नेता व समर्थकों के साथ जेपी गोलंबर पर बुधवार को धरने पर बैठ गये। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने बताया कि 'एनआरसी', 'नागरिक संशोधन विधेयक' (सीएबी) व 'बिहार में बिगड़ी कानून व्यवस्था' को लेकर धरने पर तेजस्वी यादव बैठे हैं।

धरने पर बैठे तेजस्वी यादव ने बोला कि 'सीएबी असंवैधानिक है'। उन्होंने बोला कि 'भारत के संविधान में साफ तौर पर लिखा गया है कि देश को धर्म के आधार पर विभाजित नहीं किया जा सकता। ' साथ ही उन्होंने बोला कि 'जेडीयू के कुछ नेता लोकसभा में बिल पास होने के बाद सीएबी पर सवाल उठा रहे हैं। यह सब नाटक का भाग है। जेडीयू में किसी में भी नीतीश कुमार जी के विरूद्ध जाने की हौसला नहीं है। नीतीश जी ने सत्ता में बने रहने के लिए बिल का समर्थन करके समझौता किया है। ' इस मौके पर तेजस्वी यादव के साथ पार्टी विधायक भोला यादव, भाई वीरेंद्र समेत कई पार्टी नेता व कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

आरएलएसपी ने दिया समर्थन

नागरिक संशोधन बिल के विरोध में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने आरजेडी को समर्थन दिया है। पार्टी के मुखिया उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर बोला है कि 'राष्ट्रीय समरसता, संंप्रभुता, सामाजिक सौहार्द व जनहित के मुद्दों के खिलाफ केन्द्र सरकार द्वारा लाये गये नागरिक संशोधन बिल के विरोध में पटना में आरजेडी द्वारा आयोजित धरने का रालोसपा की ओर से पुरजोर समर्थन है। पार्टी की तरफ से सहभागिता भी होगी। '