मुख्यमंत्री नीतीश कुमार यात्रा के क्रम में सबसे पहले पहुंचेंगे समस्तीपुर के महेशपुर गांव में

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार यात्रा के क्रम में सबसे पहले  पहुंचेंगे समस्तीपुर के महेशपुर गांव में

सीएम जल-जीवन-हरियाली (Jal Jeevan Hariyali) यात्रा के दूसरे चरण में तीन जिलों की यात्रा करेंगे, लेकिन विशेष बात यह है कि यह यात्रा सीएम एक ही दिन में पूरी करेंगे। यात्रा के पहले चरण में सीएम नीतीश कुमार ने चार दिन में चार जिलों की यात्रा पूरी की थी। 

इस दौरान सीएम ने हर जिले में जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत हो रहे कामों को देखा था, इसके बाद जागरुकता सम्मेलन को संबोधित किया था। दूसरे चरण में ऐसा नहीं होगा। सीएम सिर्फ दरभंगा (Darbhanga) में जागरुकता सम्मेलन करेंगे, जबकि समस्तीपुर व मधुबनी में सिर्फ कामों को देखेंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) यात्रा के क्रम में सबसे पहले समस्तीपुर के महेशपुर गांव में पहुंचेंगे। पटना से हेलीकॉप्टर के जरिये महेशपुर पहुंचने के बाद सीएम गांव में जीर्णोद्धार कराये गये तालाब को देखेंगे। इसके बाद जीविका समूह की ओर से चलाये जा रहे हायरिंग सेंटर के बारे में जानकारी लेंगे। इसके बाद सीएम नीतीश कुमार 12.45 बजे दरभंगा के बेनीपुर प्रखंड पहुंचेंगे, जहां के बाराटोल गांव में जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत विकसित किये जा रहे तालाब को देखेंगे। इसके बाद वृक्षारोपण को देखेंगे व यहीं सीएम जागरुकता सम्मेलन में भाग लेंगे, जहां वो जल-जीवन-हरियाली अभियान के बारे में लोगों को बतायेंगे।

जागरुकता सम्मेलन में भाग लेने के बाद सीएम मधुबनी के राजनगर के लिए रवाना हो जायेंगे। वहां पर 2.45 बजे राजनगर के सिमरी गांव में अकीरा मीयावाकी पद्धति से लगाये गये पौधों को देखेंगे। इसके बाद पंचायत सरकार भवन पर की जा रही टेरिस गार्डेनिंग व मौसम आधारित खेती को देखेंगे। राजनगर में सरकारी विभागों की ओर से प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया है। सीएम प्रदर्शनी को भी देखेंगे।  

इसके बाद सीएम दरभंगा समाहरणालय के लिए रवाना हो जायेंगे, जहां पर जल-जीवन-हरियाली अभियान को लेकर समस्तीपुर, दरभंगा व मधुबनी के अधिकारियों के साथ मीटिंग करेंगे व अब तक कराये गये कामों की प्रगति के बारे में जानेंगे। साथ ही आगे होनेवाले कार्यक्रमों को लेकर दिशा-निर्देश भी देंगे। मुख्यमत्री की जल-जीवन-हरियाली यात्रा 3 दिसंबर को वाल्मिकीनगर से प्रारम्भ हुई थी। पहले चरण में सीएम ने पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीवान व गोपालगंज का दौरा किया था। इस दौरान चारों जिलों में जागरूकता सम्मेलन को संबोधित किया था।