पीलीभीत :भाई ने रक्षाबंधन से पहले की बहन की हत्या,मामूली बात पर डाला मार

पीलीभीत :भाई ने रक्षाबंधन से पहले की बहन की हत्या,मामूली बात पर डाला मार

मां विमला ने पुलिस को बताया कि मेरा बेटा हत्यारा है.

पीलीभीत में रक्षाबंधन से चार दिन पहले एक भाई ने अपनी बहन को पहले पीटा फिर कोई पुलिस का हंगामा न हो इसके लिए उसे फांसी के फंदे से लटका दिया. जब मां ने बेटी का मृत शरीर फंदे से लटकता देखा तो उसने पुलिस को सूचना दी.

मां ने ही पुलिस को बताया कि बेटे ने ही मेरी बेटी की मर्डर की है. अभी आरोपी भाई अभी फरार है. घटना दियोरिया थाना क्षेत्र के भीतर आने वाले देवरिया पकड़िया गांव की है.

मामूली बात पर मार डाला

मां विमला देवी ने बताया कि मेरी बेटी शिखा (28 साल) कल देर शाम को छत पर टहल रही थी. उसका बड़ा भाई अनिल गांव में ही घूम रहा था. उसकी बहन को देख कर गांव के ही किसी पुरुष ने उससे बोल दिया, तुम्हारी बहन जवान हो गई है. अब इसकी विवाह कर दो. अनिल वहां पुरुष से जंग कहासुनी कर घर चला आया. वह काफी गुस्से में था. उसे खूब मारा पीटा. लाठी डंडो से मारा. मार मार कर बेटी को अधमरा कर दिया.

शिखा की मृत्यु की सूचना मिलने के बाद मौके पर भीड़ इकट्‌ठा हो गई है.

हंगामा न हो इसलिए फांसी के फंदे पर लटका दिया

मैं चीखती चिल्लाती रही कि उसे छोड़ दो लेकिन कोई सुन नहीं रहा था. जब उसे मारना बंद किया तो बेटी बोली कि सुबह वह पुलिस में कम्पलेन करेगी तो उससे वह घबरा गया. उसी बीच मैं ऊपर बाथरूम चली गई. मुझे अंदाजा नहीं था कि वह मेरी बेटी को मार डालेगा. सुबह कोई हंगामा न हो तो इसलिए उसने शिखा को फांसी के फंदे से लटका दिया. जब मैं लौटी तो देखा मेरी बेटी फांसी के फंदे से लटक रही थी. उसकी जान निकल गई थी.

हत्या की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के साथ फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची है<span class='red'>.</span>

हत्या की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के साथ फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची है.

दो भाइयों के बीच इकलौती बहन थी शिखा

मां विमला बताती है कि मेरे पति की मृत्यु हो चुकी है. दो बेटे हैं जिसमें अनिल सबसे बड़ा है. शिखा सबसे छोटी बेटी है. उसे मैं बहुत प्यार करती थी. अनिल की विवाह हाे चुकी है. घर में उसकी पत्नी और बच्चे भी रहते हैं. अब बहन की मर्डर कर वह फरार हो गया है. मैंने बेटे के विरूद्ध सुबह तहरीर दे दी है. पुलिस उसे खोज रही है. मामला दर्ज कर लिया गया है.