कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर उछाल

कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर उछाल

उत्तर प्रदेश में कोविड-19 संक्रमितों की संख्या में धीमी गति से मगर लगातार वृद्धि हो रहा है. पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 682 नये कोविड-19 के मुद्दे सामने आये है जिन्हें मिलाकर कोविड-19 संक्रमितों की संख्या 3,257 हो चुकी है.  आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि बीते 24 घंटों में 91 हजार से अधिक टेस्ट किए गए जिसमें 682 नए रोगी सामने आये हैं. इस बीच 352 लोगों ने संक्रमण को मात दी है. प्रदेश में अभी कोविड-19 संक्रमितों की संख्या 3257 है जिनमें 3,082 लोग होम आइसोलेशन में हैं.

कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर उछाल होने से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑफिसरों को कोविड की बदलती परिस्तिथियों पर सूक्ष्मता से नजर बना रखने के नर्दिेश दिए हैं. उन्‍होंने सभी अस्पतालों में चिकत्सिकीय उपकरणों की क्रियाशीलता, डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्‍टॉफ की समुचित उपलब्धता की गहनता से परख करने के निर्देश जारी किए हैं. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने आवश्यक दवाओं के साथ मेडिसिन किट तैयार कराने के आदेश दिए हैं. सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाए जाने को जरूरी करते हुए पब्लिक एड्रेस सस्टिम के जरिए लोगों को सतर्क भी किया जाएगा.
 
उन्होने बताया कि प्रदेश में अब तक 33 करोड़ 75 लाख से अधिक टीके की डोज देने के साथ ही टीकाकरण अभियान में दूसरे प्रदेशों की तुलना में पहले पायदान पर अपना स्‍थान बनाए हुए है. यही कारण है कि महाराष्ट्र समेत अन्य प्रदेशों को पछाड़ते हुए राष्ट्र में उत्तर प्रदेश टीकाकरण अभियान का सफलतापूर्वक नेतृत्व कर रहा है.
 यूपी में बुधवार को 33,75,72,051 टीके की डोज दी जा चुकी है. जिसमें 17,53,24,563 को पहली डोज और 15,87,91,071 को दूसरी डोज दी जा चुकी है. अब तक उत्तर प्रदेश में 34,56,417 को प्रीकॉशन डोज दी जा चुकी है. ‘फोर टी’ रणनीति के अनुसार उत्तर प्रदेश ने कम समय में न सर्फि संक्रमण पर काबू पाया बल्कि कोविड-19 के नए वेरिएंट के प्रसार को भी रोकने में सक्षम रहा.


मथुरा में लव जिहाद का एक मामला आया सामने

मथुरा में लव जिहाद का एक मामला आया सामने

 यूपी के मथुरा में लव जिहाद (Love jihad) का एक मामला सामने आया है यहां पर समुदाय विशेष के एक पुरुष पर आरोप लगा है कि उसने हिंदू नाबालिग लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर उससे 3 महीने तक बलात्कार किया पुलिस ने आरोपी को अरैस्ट कर लिया है जहां पुलिस की टीम उससे पूछताछ में जुटी है दरअसल मथुरा के थाना जमुनापार क्षेत्र के रहने वाले मौसिम कुरेशी नाम के पुरुष ने पड़ोस में रहने वाली 15 वर्षीय नाबालिग किशोरी को बहला-फुसलाकर अपने प्रेम जाल में फंसा लिया और 3 महीने तक उसे घर में कैद कर उसका मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न किया वहीं, पीड़ित परिवार की थाना जमुनापार में सुनवाई भी नहीं हुई

अब चार महीने बाद मामला एसएसपी के संज्ञान में आया तो एसएसपी डाक्टर गौरव ग्रोवर ने केस दर्ज करने के आदेश दिए थाना जमुनापार में आरोपी मौसिम कुरैशी और उसके परिजनों के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज हुई है आरोप है कि मथुरा के जमुनापार क्षेत्र के एक गांव में 15 वर्ष की लड़की को तीन महीने तक घर में कैद करके रखा गया उसका धर्म बदलाव कर शारीरिक उत्पीड़न किया गया वहीं, यह भी आरोप है कि जब पीड़ित लड़की तहरीर देने पुलिस के पास पहुंची तो पुलिस ने उसे ही धमका दियापीड़िता की विधवा मां जब बेटी को आरोपी के घर से लेने जाती, तो उसे डरा धमका कर भगा दिया जाता मामला एसएसपी के संज्ञान में आने के बाद उनके आदेश पर अब जमुनापार थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है

पीड़िता को पहुंची कानपुर नारी निकेतन
मां का बोलना है कि उसे यह बताया जाता था कि मौसिम ने उसकी बेटी से विवाह कर लिया है पीड़िता की मां लगातार न्याय के लिए ऑफिसरों के दरवाजे खटखटा रही थी, लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई आरोपी ने कुछ पुलिसवालों के साथ मिलकर नाबालिग पीड़िता को मथुरा से दूर कानपुर नारी निकेतन भिजवा दिया पीड़िता और उसकी मां ने बताया कि लगातार आरोपी मौसिम धर्म बदलाव करने का दबाव बना रहा था वहीं, यह भी बताया गया कि आरोपी का नशीला पदार्थों की बिक्री का बड़ा गैर कानूनी कारोबार है मामले में पुलिस ने बहला फुसलाकर भगा ले जाने की धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है किशोरी का मेडिकल कराकर धारा 164 के अनुसार बयान दर्ज कराए जाएंगे