सीएम योगी ने दिव्यांगों की ऐसे की मदद, इतना बढ़ाया अनुदान

सीएम योगी ने दिव्यांगों की ऐसे की मदद, इतना बढ़ाया अनुदान

लखनऊ: पीएम मोदी के सबका साथ सबका विकास के मंत्र पर चलकर सीएम योगी ने युवाओं से लेकर बुजुर्गों तक व गरीबों और बेसहारों को सरकारी योजनाओं से जोड़कर लाभ देने में एक के बाद कई एक रिकार्ड तोड़ दिए हैं। दिव्यांगों को दिए जाने वाले अनुदान को योगी सरकार ने बढ़ा दिया है। 2017 के पहले जहां उन्हें महज 300 रूपये मिलते थे वहीं उन्हें अब 500 रूपये प्राप्त हो रहे हैं।

बीते तीन सालों में अनुदान योजना से नए दिव्यांगों को जोड़ने के मामले में पूर्वांचल के जिले शीर्ष पर हैं। इसमें प्रतापगढ़ में सर्वाधिक 10,966 दिव्यांगों को योजना से जोड़ा गया है। इसके बाद खीरी में 9,260, आजमगढ़ में 9,217, जौनपुर में 7,949 व प्रयागराज में 7,534 लाभार्थी जोड़े गए हैं। योगी सरकार में दिव्यांगों को न सिर्फ योजना का लाभ मिल रहा बल्कि सम्मान भी मिल रहा है।

पहले लाभ पाने के लिए भटकना पड़ता था
योगी सरकार आने से पहले योजना का लाभ पाने के लिए दिव्यांगो को 6-6 महीने तक भटकना पड़ता था। पहले विकास खंड व तहसील स्तर के बाद जिले के दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी के पास आवेदन का सत्यापन करने के लिए तीन चरण से गुजरना पड़ता था। इन सबसे करीब 6 माह का वक्त लग जाता था। योगी सरकार ने तीन चरणों की बाध्यता खत्म कर एक महीने में ही सत्यापन करने की जिम्मेदारी जिले के दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी को दे दी।

इतना ही नहीं जो भी दिव्यांग योजना को ऑनलाइन आवेदन करने में सक्षम नहीं उनका आवदेन जिले के अधिकारियों को करने की जिम्मेदारी दे दी गई। साथ ही जिन्होंने ऑनलाइन आवेदन कर दिया है उन्हें हार्डकॉपी देने से छूट दी गई। इन सबसे दिव्यांगों को भागदौड़ से मुक्ति तो मिली ही साथ ही योजनाओं से जुड़ने में तेजी आई। यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश के दिव्यांग खिलाड़ियों को प्रदेश का सर्वोच्च खेल सम्मान मिला। इस अवसर पर खिलाड़ियों को लक्ष्मण व लक्ष्मीबाई सम्मान से नवाजा गया।

जगह-जगह कैंप लगाकर योजनाओं का लाभ पहुंचाया
दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग निदेशक अनूप कुमार ने बताया कि दिव्यांग 2017 के पहले सरकारी योजनाओं में पात्र होने के बाद भी लाभ नहीं ले पा रहे थे योगी सरकार ने उनके लिए जगह-जगह कैंप लगाकर योजनाओं का लाभ पहुंचाया। साथ ही जिले के दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी को एक महीने में दिव्यांगों के मामलों का निस्तारण करने का निर्देश दिया। जिसके चलते महज तीन सालों में ही अनुदान पाने वाले दिव्यांगों की संख्या 11 लाख के पार हो गई। दिव्यांगजन एवं सशक्तीकऱण विभाग विशेष सचिव अजित कुमार ने बताया कि प्रदेश में दिव्यांग भरण पोषण अनुदान योजना से कुल 11,02,028 लोगों को पेंशन दी जा रही है। बीते तीन सालों में 2 लाख 67 हजार 39 नए दिव्यांग इस योजना से जुड़ चुके हैं।


24 घंटे में मिले 1368 नए मरीज, यूपी में भी दिख रहा कोविड-19 रिटर्न का असर

24 घंटे में मिले 1368 नए मरीज, यूपी में भी दिख रहा कोविड-19 रिटर्न का असर

लखनऊ: यूपी (Uttar Pradesh) में भी कोविड-19 (Covid-19) की दूसरी लहर का संकट गहराता नजर आ रहा है रविवार के बाद सोमवार को भी नए संक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि देखने को मिला सोमवार को प्रदेश में 1368 नए मरीज मिले जबकि पांच की मृत्यु हो गई प्रदेश में इस समय सक्रिय मरीजों की संख्या 8669 है जाँच बढ़ने के साथ ही मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है पिछले 24 घंटों के दौरान 119075 लोगों की जाँच की गई

राजधानी लखनऊ में सर्वाधिक 499 मरीज मिले, जबकि दो मरीजों की कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु हो गई मौजूदा समय में लखनऊ में सक्रिय मरीजों की संख्या 2598 है  कानपुर में भी सोमवार को 58 नए मुद्दे सामने आए इसस पहले रविवार को 41 मुद्दे मिले थे वहीं आगरा में भी कोविड-19 मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि होते दिख रहा है  आगरा में कोविड-19 से अब तक करीब 177 लोगों मृत्यु हो चुकी है सोमवार को आगरा के 17 क्षेत्रों में 23 नए केस मिले हैं ब्रज में सोमवार को कोविड-19 संक्रमण से एक आदमी की मृत्यु हो गई, जबकि 95 नए पॉजिटिव सामने आए हैं इनमें सबसे जयादा केस मथुरा में मिले हैं यहां अकेले 61 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है वहीं फिरोजाबाद में भी 11 पॉजिटिव की पुष्टि हुई है

सतर्कता बरतने के विशेष निर्देश
बताते चलें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की दूसरी लहर को देखते हुए जाँच को बढ़ाने और सतर्कता बरतने के विशेष आदेश दिए हैं  सोशल डिस्टेंसिंग का जरूरी रूप से पालन करने को बोला गया है  सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना जरूरी कर दिया गया है जिलाधिकारियों को आदेश दिया गया है कि मास्क पहनने के लिए लोगों को प्रेरित कराएं. इसके साथ ही लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जाए


आज है अप्रैल माह का पहला प्रदोष व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व       क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज       गुरुवार को रखने जा रहे हैं व्रत तो इन बातों का रखें खास ख्याल       करें काले तिल के ये उपाय, घर में आती है सुख-समृद्धि       कब से शुरू हो रहा है रमजान का पवित्र महीना, जानें यहां       ताइवान अधिकारी के साथ सरकार के संबंधों को मिलेगा बढ़ावा       अमेरिका-ईरान के बीच अगले सप्ताह शुरू होगी वार्ता, परमाणु समझौते का मुख्य बिंदु       कोरोना संक्रमण के चलते दूसरे देशों को टीके की आपूर्ति कम कर सकता है भारत : गावी प्रमुख       अमेरिकी सांसद ने 'क्वाड प्लस फ्रांस' नौसेना अभ्यास को सराहा       वर्जीनिया में एलजी पद की दौड़ में शामिल पुनीत अहलूवालिया के पक्ष में उतरे कपिल देव       मध्य प्रदेश सीएम शिवराज ने बढ़ते कोविड मामलों पर जताई चिंता, बोले...       दुनियाभर के 27 अमीर देशों में 25 गुना तेज टीकाकरण       बढ़ते संक्रमण को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार अलर्ट, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर RT- PCR परीक्षण की तैयारी       आम की यह किस्म बारहों महीने देती है फल, राजस्थान के इस किसान ने किया विकसित       झारखंड और यूपी के कई इलाकों में हुई बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम       पेट्रोल डीजल की खूब बचत करती हैं ये 4 कारें, इनका माइलेज है सबसे ज्यादा       नई किआ Seltos से लेकर हुंडई Alcazar तक, अप्रैल में लॉन्चिंग को तैयार ये धाकड़ एसयूवीज !       इन SUVs को जमकर खरीद रहे ग्राहक, कीमत है कम और फीचर्स हैं ज्यादा       फ्यूल सेविंग गैजेट्स के बारे में ये बाते नहीं जानते होंगे आप, जानें       ये हैं भारत की सबसे सस्ती फैमिली कारें, 7 लोगों का परिवार आसानी से हो जाएगा इनमें फिट