सीएम योगी ने कहा कि ई चालान के प्रकरणों के निस्तारण का लिए होगी ई कोर्ट की स्थापना

सीएम योगी ने कहा कि ई चालान के प्रकरणों के निस्तारण का लिए होगी ई कोर्ट की स्थापना

लखनऊः यूपी में चल रही ई-चालान व्यवस्था के तहत आये दिन होने वाली परेशानियों को देखते हुए अब ई-कोर्ट स्थापना होने जा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाहनों के ई-चालान प्रकरणों के निस्तारण में तेजी लाने के लिए ई-कोर्ट की स्थापना करने को कहा है। ई-कोर्ट की स्थापना के बाद प्रदेश में लंबित पड़े लगभग 36 लाख मामले यदि शीघ्र निस्तारित होंगे तो इनसे जुर्माने में मिली धनराशि से न केवल प्रदेश सरकार को राजस्व की प्राप्ति होगी, बल्कि दुर्घटनाओं मे भी कमी के साथ-साथ यातायात नियमों के प्रति जागरूकता भी बढ़ेगी।

किया गया विचार-विमर्श
न्यायालयों पर कार्य के दबाव को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ई-कोर्ट की स्थापना की कार्ययोजना प्रस्तुत करने को कहा है। इस सम्बन्ध में आज अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी व प्रमुख सचिव, न्याय, प्रमोद कुमार श्रीवास्तव ने आज न्याय विभाग में एक संयुक्त बैठक कर इस कार्य को गति देने के विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तार से विचार-विमर्श किया। बैठक में जानकारी दी गयी कि विगत 7 जनवरी 2019 से 31 दिसम्बर 2020 तक किये गये ई-चालानों की कुल संख्या 1,13,33,367 है।

उल्लेखनीय है कि जिन मामलो का निस्तारण जुर्माने से नहीं हो पाता है उन्हें न्यायालय को अग्रिम कार्यवाही हेतु भेजा जाता है। इनमें से कोर्ट में प्रेषित ई-चालानों की संख्या 38,21,241, कोर्ट द्वारा निस्तारित ई चालानों की संख्या 1,78,999 तथा अनिस्तारित ई चालानों की संख्या 36,42,242 है। बैठक में बताया गया कि वाराणसी एवं फैजाबाद जनपदों में ई चालान न्यायालय को एनआईसी के माध्यम से भेजा जा रहा है। न्यायालय द्वारा इसके सम्बन्ध में चालान करके रसीद अपलोड कर दी जाती है। यह व्यवस्था पूरे प्रदेश में न्याय विभाग के माध्यम से शीघ्र लागू किये जाने पर विचार-विमर्श किया गया।

यह भी जानकारी दी गई कि यातायात निदेशालय द्वारा एनआईसी के माध्यम से प्रयागराज में ई-मैंपिग की जा रही है। इस प्रकार की ई-मैपिंग की व्यवस्था पूरे प्रदेश में लागू किये जाने के विभिन्न पहलुओं पर भी बैठक मे विचार-विमर्श किया गया।उल्लेखनीय है कि तकनीकी के विकास के साथ-साथ नियमों का अनुपालन न करने वाले वाहनों के ई-चालान किये जाने की व्यवस्था है। इनका निस्तारण वर्तमान समय में न्यायालयों के माध्यम से कराया जा रहा है।


24 घंटे में मिले 1368 नए मरीज, यूपी में भी दिख रहा कोविड-19 रिटर्न का असर

24 घंटे में मिले 1368 नए मरीज, यूपी में भी दिख रहा कोविड-19 रिटर्न का असर

लखनऊ: यूपी (Uttar Pradesh) में भी कोविड-19 (Covid-19) की दूसरी लहर का संकट गहराता नजर आ रहा है रविवार के बाद सोमवार को भी नए संक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि देखने को मिला सोमवार को प्रदेश में 1368 नए मरीज मिले जबकि पांच की मृत्यु हो गई प्रदेश में इस समय सक्रिय मरीजों की संख्या 8669 है जाँच बढ़ने के साथ ही मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है पिछले 24 घंटों के दौरान 119075 लोगों की जाँच की गई

राजधानी लखनऊ में सर्वाधिक 499 मरीज मिले, जबकि दो मरीजों की कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु हो गई मौजूदा समय में लखनऊ में सक्रिय मरीजों की संख्या 2598 है  कानपुर में भी सोमवार को 58 नए मुद्दे सामने आए इसस पहले रविवार को 41 मुद्दे मिले थे वहीं आगरा में भी कोविड-19 मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि होते दिख रहा है  आगरा में कोविड-19 से अब तक करीब 177 लोगों मृत्यु हो चुकी है सोमवार को आगरा के 17 क्षेत्रों में 23 नए केस मिले हैं ब्रज में सोमवार को कोविड-19 संक्रमण से एक आदमी की मृत्यु हो गई, जबकि 95 नए पॉजिटिव सामने आए हैं इनमें सबसे जयादा केस मथुरा में मिले हैं यहां अकेले 61 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है वहीं फिरोजाबाद में भी 11 पॉजिटिव की पुष्टि हुई है

सतर्कता बरतने के विशेष निर्देश
बताते चलें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की दूसरी लहर को देखते हुए जाँच को बढ़ाने और सतर्कता बरतने के विशेष आदेश दिए हैं  सोशल डिस्टेंसिंग का जरूरी रूप से पालन करने को बोला गया है  सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना जरूरी कर दिया गया है जिलाधिकारियों को आदेश दिया गया है कि मास्क पहनने के लिए लोगों को प्रेरित कराएं. इसके साथ ही लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जाए


आज है अप्रैल माह का पहला प्रदोष व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व       क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज       गुरुवार को रखने जा रहे हैं व्रत तो इन बातों का रखें खास ख्याल       करें काले तिल के ये उपाय, घर में आती है सुख-समृद्धि       कब से शुरू हो रहा है रमजान का पवित्र महीना, जानें यहां       ताइवान अधिकारी के साथ सरकार के संबंधों को मिलेगा बढ़ावा       अमेरिका-ईरान के बीच अगले सप्ताह शुरू होगी वार्ता, परमाणु समझौते का मुख्य बिंदु       कोरोना संक्रमण के चलते दूसरे देशों को टीके की आपूर्ति कम कर सकता है भारत : गावी प्रमुख       अमेरिकी सांसद ने 'क्वाड प्लस फ्रांस' नौसेना अभ्यास को सराहा       वर्जीनिया में एलजी पद की दौड़ में शामिल पुनीत अहलूवालिया के पक्ष में उतरे कपिल देव       मध्य प्रदेश सीएम शिवराज ने बढ़ते कोविड मामलों पर जताई चिंता, बोले...       दुनियाभर के 27 अमीर देशों में 25 गुना तेज टीकाकरण       बढ़ते संक्रमण को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार अलर्ट, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर RT- PCR परीक्षण की तैयारी       आम की यह किस्म बारहों महीने देती है फल, राजस्थान के इस किसान ने किया विकसित       झारखंड और यूपी के कई इलाकों में हुई बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम       पेट्रोल डीजल की खूब बचत करती हैं ये 4 कारें, इनका माइलेज है सबसे ज्यादा       नई किआ Seltos से लेकर हुंडई Alcazar तक, अप्रैल में लॉन्चिंग को तैयार ये धाकड़ एसयूवीज !       इन SUVs को जमकर खरीद रहे ग्राहक, कीमत है कम और फीचर्स हैं ज्यादा       फ्यूल सेविंग गैजेट्स के बारे में ये बाते नहीं जानते होंगे आप, जानें       ये हैं भारत की सबसे सस्ती फैमिली कारें, 7 लोगों का परिवार आसानी से हो जाएगा इनमें फिट