बीसीसीआई के लिए कठिनाई बनी हुई है टी20 लीग, जानिए कारण

बीसीसीआई के लिए कठिनाई बनी हुई है टी20 लीग, जानिए कारण

हिंदुस्तान के क्रिकेट पर  इस समस सट्टेबाजी, स्पॉट फिक्सिंग व मैच फिक्सिंग के काले बादल मंडरा रहे है। खासकर घरेलू टी20 क्रिकेट लीग्स में यह अपने पैर फैला रहा है, जिसको लेकर बीसीसीआई भी चिंता में हैं।   ]भारतीय एक्सप्रेस की खबर  की अनुसार  बीसीसीआई (BCCI) की एंटी करप्‍शन यूनिट ने बोर्ड को एक गुप्त रिपोर्ट सौंपी है। जिसमें इस बात पर जोर डाला गया कि इस वर्ष तमिलनाडु प्रीमियर लीग ( Tamil Nadu Premier League) में टूटी पैट्रियट्स व मदुरई पैंथर्स का मैच इंटरनेशनल साइट बैटफेयर पर 24 मिलियन पाउंड यानी 225 करोड़ रुपये की सट्टेबाजी का गवाह बना था।   हालांकि एसीयू के चीफ अजीत सिंह ने इस पर कोई कमेंट नहीं किया।
पिछले हफ्ते बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने घोषणा की थी कि तमिलनाडु प्रीमियर  लीग की दो फ्रेंचाइजी को निलंबित कर दिया गया हैं। बाद में हालांकि तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के ऑफिसर ने बोला कि किसी भी फ्रेंचाइजी को निलंबित नहीं किया गया है। ऑफिसर ने बोला कि आंतरिक जाँच समिति की सलाह पर टुटी पैट्रियट्स के दो सह मालिकों को निष्कासित कर दिया गया था।

पिछले हफ्ते बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने घोषणा की थी कि तमिलनाडु प्रीमियर  लीग की दो फ्रेंचाइजी को निलंबित कर दिया गया हैं।  



सालभर से बीसीसीआई के लिए कठिनाई बनी हुई है टी20 लीग

बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली ने बोला था कि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के कम से कम एक खिलाड़ी को इस सत्र में बुकीज ने लालच दिया था। उन्होंने बोला कि वैसे कर्नाटक प्रीमियर लीग को होल्ड पर रखा गया है, जिसमें पुलिस अभी तक कई खिलाड़ियों  की अरैस्ट कर चुकी है। टी20 लीग्स में भष्ट्राचार ने पिछले वर्ष भर से एंटी करप्‍शन यूनिट को व्यस्त कर रखा है। गांगुली ने बोला कि अगर लीग्स में भष्ट्राचार जारी रहता है  तो एंटी करप्‍शन यूनिट को मजबूत करना होगा व मौजूदा सेट अप का मूल्याकंन अगले वर्ष किया जाएगा। उन्होंने बोला कि इस भष्ट्राचार से निपटा जा रहा है। हमें बेहतरीन एंटी करप्‍शन के लोग चाहिए, जिससे यूनिट मजबूत हो सके। हम अगले वर्ष मूल्यांकन  करेंगे।

कर्नाटक टीम के पूर्व कैप्टन मुख्यमंत्री गौतम को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था



केपीएल में बड़े खिलाड़ी हो चुके हैं गिरफ्तार

तमिलनाडु प्रीमियर लीग ( Tamil Nadu Premier League)  के अतिरिक्त कनार्टक प्रीमियर लीग में भी भष्ट्राचार के कारण बेंगलुरु पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है। केपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के कारण कर्नाटक टीम के पूर्व कैप्टन मुख्यमंत्री गौतम को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिससे भारतीय क्रिकेट को बड़ा झटका लगा था। बेलगावी पैंथर्स के मालिक अशफाक अली थारा को भी पुलिस ने हिरासत में लिया था।