बीच मैदान पर पहले क्रिकेटर को हार्ट अटैक आया व फिर उसकी चली गई जान

बीच मैदान पर पहले क्रिकेटर को हार्ट अटैक आया व फिर उसकी चली गई जान

क्रिकेट के मैदान किसी के लिए खुशियां लेकर आता है तो किसी के लिए गम भी लेकर आता है. अक्सर क्रिकेट के मैदान पर हादसे होते रहते हैं, जिसमें गंभीर चोट से लेकर खिलाड़ियों की मृत्यु तक हो जाती है.

 घरेलू स्तर के मुकाबलों में ऐसा होना आम बात हैं, जहां खिलाड़ी चोटिल हो जाते हैं. यहां तक कई खिलाड़ी मृत्यु के मुंह में चले जाते हैं. ऐसा ही एक एक्सीडेंट त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में हुआ है, जहां बीच मैदान पर पहले क्रिकेटर को हार्ट अटैक आया व फिर उसकी जान चली गई.

नई संसार की समाचार के मुताबिक, मुद्दा मंगलवार का है जब अगरतला में महाराजा बीर बिक्रम क्रिकेट स्टेडियम एक प्रैक्टिस मैच के दौरान अंडर 23 वर्ग के खिलाड़ी मिथुन देबबर्मा को मैदान पर दिल का दौरा पड़ा. आनन-फानन में साथी खिलाड़ी उसे अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन उसी दौरान क्रिकेटर मिथुन देबबर्मा ने दम तोड़ दिया. क्रिकेटर की मृत्यु से परिजन ही नहीं, बल्कि साथी खिलाड़ी भी दुखी हैं.

मिथुन कर रहे थे फील्डिंग

बताया जा रहा है कि त्रिपुरा की टीम प्रैक्टिस मैच खेल रही थी. इसी प्रैक्टिस मैच में मिथुन देबबर्मा फील्डिंग कर रहे थे, लेकिन आकस्मित वो मैदान में गिर पड़े. मिथुन को बेहोशी की हालत में देखकर साथी खिलाड़ी उनकी ओर दौड़े. मैदान पर बेसुध पड़े मिथुन को साथी खिलाड़ियों ने उठाया व पास के इंदिरा गांधी मेमोरियल अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया. डॉक्टरों ने भी मिथुन की मृत्यु की वजह हार्ट अटैक ही बताई.

डॉक्टरों के मुताबिक, खिलाड़ी मिथुन देबबर्मा को गंभीर हार्टअटैक आया. इतनी कम आयु में हार्ट अटैक की वजह जानने के लिए डॉक्टरों ने उनका पोस्टमॉर्टम कराने का निर्णय किया. बहरहाल, मिथुन देबबर्मा की असामयिक मृत्यु से त्रिपुरा क्रिकेट एसोसिएशन व उनके साथ खिलाड़ी स्तब्ध हैं. हादसे की समाचार सुनकर त्रिपुरा क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष डाक्टर मानिक शाह व प्रदेश के कई क्रिकेटर भी अस्पताल खिलाड़ी के परिवार का ढांढस बंधाने पहुंचे.