8 अप्रैल को होगी श्रेयस अय्यर के कंधे की सर्जरी, इतने महीने क्रिकेट की दुनिया से रहेंगे दूर

8 अप्रैल को होगी श्रेयस अय्यर के कंधे की सर्जरी, इतने महीने क्रिकेट की दुनिया से रहेंगे दूर

भारतीय टीम के धाकड़ बल्लेबाज श्रेयस अय्यर के कंधे की सर्जरी कब होगी। इस बात का खुलासा हो गया है। कंधे की चोट के कारण श्रेयस अय्यर को पहले इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के आखिरी दो मैचों से बाहर होना पड़ा था और फिर मेडिकल रिपोर्ट सामने आने के बाद अय्यर को आइपीएल के 14वें सीजन से भी बाहर होना पड़ा है। हालांकि, अब भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर की सर्जरी आठ अप्रैल को होगी। ये सुनिश्चित हो गया है।

26 वर्षीय श्रेयस अय्यर पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में 23 मार्च को खेले गए पहले वनडे में जॉनी बेयरस्टो के शॉट को डाइव लगाकर रोकने के प्रयास में चोटिल हो गए थे। चोटिल होने के बाद वह काफी दर्द में दिखे और उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। बाद में वे मैदान पर नहीं लौटे और स्कैन में भी फ्रैक्चर होने की पुष्टि हुई थी। इस मामले की जानाकरी रखने वाले एक सूत्र ने कहा, "श्रेयस के चोटिल कंधे का आठ अप्रैल को ऑपरेशन होगा।"


दाएं हाथ के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर लगभग चार महीने तक क्रिकेट की दुनिया से दूर रहेंगे। इस बीच वे प्रैक्टिस भी नहीं कर पाएंगे और जब एक बार वे प्रैक्टिस पर लौटेंगे तो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ की मेडिकल टीम की उन पर नजर बनी रहेगी। उन्होंने इंग्लैंड की काउंटी टीम लंकाशायर की तरफ से वनडे टूर्नामेंट खेलने का करार किया था। चोट के कारण 23 जुलाई से शुरू होने वाले इस टूर्नामेंट में अब उनकी भागीदारी की संभावना कम है।


अय्यर ने पिछले सप्ताह ट्वीट किया था, "वो कहते हैं, जितनी बड़ी निराशा होगी, वापसी उतनी ही मजबूत होगी। मैं जल्द ही वापसी करूंगा। मैं आपके संदेशों को पढ़ रहा हूं। आपके प्यार और समर्थन से अभिभूत हूं। दिल की गहराई से आप सब का शुक्रिया।" अय्यर की अगुआई में दिल्ली कैपिटल्स की टीम आइपीएल के पिछले सत्र में फाइनल में पहुंची थी। नौ अप्रैल से शुरू होने वाले आगामी सत्र के लिए रिषभ पंत को टीम का कप्तान बनाया गया है। 


T20 विश्व कप के लिए एक टीम में चुने जा सकते हैं इतने खिलाड़ी, ICC ने कर दिया ऐलान

T20 विश्व कप के लिए एक टीम में चुने जा सकते हैं इतने खिलाड़ी, ICC ने कर दिया ऐलान

गुरुवार को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी की क्रिकेट कमेटी की बैठक हुई। इस बैठक में कई निर्णय लिए गए, जिसमें से एक फैसला ये भी था कि टी20 विश्व कप जैसे टूर्नामेंट में कितने खिलाड़ियों को चुना जा सकता है। आइसीसी ने इस पर स्थिति स्पष्ट कर दी है कि एक टीम के साथ अब ज्यादा से ज्यादा 23 खिलाड़ियों को यात्रा कराई जा सकती है, क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के कारण कुछ चीजें संभव नहीं हैं।

अभी तक ICC टूर्नामेंट्स के लिए क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था सिर्फ 15 खिलाड़ियों को ही साथ रखने की अनुमति देती थी। इसके अलावा सपोर्ट स्टाफ समेत करीब 30 लोगों को साथ रखने की अनुमति थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए नियमों में कुछ बदलाव किए हैं, जो कि टीमों के हितों में भी हैं। आइसीसी ने अब बड़े टूर्नामेंट्स के लिए 23 खिलाड़ियों को टीम में चुने जाने की अनुमति दी है, जिनमें से प्लेइंग इलेवन भी चुनी जा सकती है।


दरअसल, कोरोना वायरस महामारी की मजबूरी को देखते हुए आइसीसी ने ये फैसला किया है, क्योंकि अगर कोई खिलाड़ी चोटिल हो जाता है तो उसका रिप्लेसमेंट अब नहीं मिल पाएगा, क्योंकि पहले एक ही दिन में रिप्लेसमेंट मिल जाता था, क्योंकि कोरोना की समस्या नहीं थी। अब खिलाड़ी को बायो-बबल में प्रवेश करने के लिए अनिवार्य क्वारंटाइन पूरा करना होगा। इसके बाद खिलाड़ी को टीम में जगह मिल सकती है।

हालांकि, इस मजबूरी को देखते हुए आइसीसी ने कहा है कि अब टीम के साथ 23 खिलाड़ी यात्रा कर सकते हैं, लेकिन अभी ये स्पष्टीकरण नहीं आया है क्या 23 में से किन्हीं 15 खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन में प्रवेश मिलेगा और बाकी के खिलाड़ी रिजर्व के तौर पर होंगे या फिर सभी खिलाड़ी बेंच स्ट्रेंथ का हिस्सा होंगे और उनको प्लेइंग इलेवन के अलावा फील्डिंग के तौर पर भी देखा जा सकता है। ऐसा इसलिए भी किया गया है, क्योंकि कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने के बाद उस खिलाड़ी अलग-थलग किया जा सकता है।


आज है अप्रैल माह का पहला प्रदोष व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व       क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज       गुरुवार को रखने जा रहे हैं व्रत तो इन बातों का रखें खास ख्याल       करें काले तिल के ये उपाय, घर में आती है सुख-समृद्धि       कब से शुरू हो रहा है रमजान का पवित्र महीना, जानें यहां       ताइवान अधिकारी के साथ सरकार के संबंधों को मिलेगा बढ़ावा       अमेरिका-ईरान के बीच अगले सप्ताह शुरू होगी वार्ता, परमाणु समझौते का मुख्य बिंदु       कोरोना संक्रमण के चलते दूसरे देशों को टीके की आपूर्ति कम कर सकता है भारत : गावी प्रमुख       अमेरिकी सांसद ने 'क्वाड प्लस फ्रांस' नौसेना अभ्यास को सराहा       वर्जीनिया में एलजी पद की दौड़ में शामिल पुनीत अहलूवालिया के पक्ष में उतरे कपिल देव       मध्य प्रदेश सीएम शिवराज ने बढ़ते कोविड मामलों पर जताई चिंता, बोले...       दुनियाभर के 27 अमीर देशों में 25 गुना तेज टीकाकरण       बढ़ते संक्रमण को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार अलर्ट, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर RT- PCR परीक्षण की तैयारी       आम की यह किस्म बारहों महीने देती है फल, राजस्थान के इस किसान ने किया विकसित       झारखंड और यूपी के कई इलाकों में हुई बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम       पेट्रोल डीजल की खूब बचत करती हैं ये 4 कारें, इनका माइलेज है सबसे ज्यादा       नई किआ Seltos से लेकर हुंडई Alcazar तक, अप्रैल में लॉन्चिंग को तैयार ये धाकड़ एसयूवीज !       इन SUVs को जमकर खरीद रहे ग्राहक, कीमत है कम और फीचर्स हैं ज्यादा       फ्यूल सेविंग गैजेट्स के बारे में ये बाते नहीं जानते होंगे आप, जानें       ये हैं भारत की सबसे सस्ती फैमिली कारें, 7 लोगों का परिवार आसानी से हो जाएगा इनमें फिट