भारतीय जीत में लिएंडर पेस ने भी अहम किरदार निभाई, जानिए कैसे

भारतीय जीत में लिएंडर पेस ने भी अहम किरदार निभाई, जानिए कैसे

भारत ने हाल ही में पाक को में 4-0 से हराया। भारतीय जीत में लिएंडर पेस ने भी अहम किरदार निभाई। ने जीत के बाद यह कहकर एक बहस को जन्म दे दिया कि उन्हें हिंदुस्तान की डेविस कप में स्थान नहीं मिलनी चाहिए थी। आखिर हर खिलाड़ी का सपना अपने देश के लिए खेलना होता है। लिएंडर पेस ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन पर हर भारतीय खेलप्रेमी गर्व करता है। ऐसे में वे टीम में स्थान ना मिलने संबंधी बयान क्यों दे रहे हैं। पेस ने यह बात खुद ही बताई।  

लिएंडर पेस ने कहा, ‘टीम के हित में यही है कि अब मुझे अगले वर्ष नहीं खेलना चाहिए। अब मुझे डेविस कप की भारतीय टीम में स्थान नहीं मिलनी चाहिए। 46 वर्ष की आयु में यह अच्छा होता कि युवा खिलाड़ियों ने मुझे बाहर कर दिया होता। अगर हम भविष्य के लक्ष्य को देखें तो युवा खिलाड़ी टीम के लिए जरूरी हैं। यह वक्त युवाओं को मौका देने का है। मौका दिए जाने पर ही उन्हें अनुभव हासिल होगा। ’ 

टीम के लिए खेलने के सवाल पर लिएंडर ने कहा, ‘मुझे जब भी खेलने के लिए बुलाया जाएगा, तब मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगा। लेकिन मैं यकीन के साथ नहीं कह सकता कि अगले वर्ष भी ऐसा होगा। मुझे लगता है कि अब युवा खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने का वक्त आ गया है। ’ 

पाकिस्तान में खेलने के विषय में पूछे गए सवाल पर लिएंडर ने कहा, ‘मैं अपने देश के लिए किसी भी परिस्थति में व किसी भी विपक्षी के विरूद्ध खेलने को तैयार हूं। देश के प्रतिनिधि के तौर पर जब हम खेलते हैं तो मेरे लिए यह बात अर्थ नहीं रखती कि हम कहां खेल रहे हैं या किसके विरूद्ध खेल रहे हैं। एआईटीए ने जब मुझे पूछा था कि क्या मैं इस्लामाबाद में खेलने को तैयार हूं तो मैंने हां बोला था। मैंने यह नहीं पूछा था कि क्यों, मैंने नहीं पूछा था कि स्थिति क्या है। ’ 

बता दें कि महेश भूपति, रोहन बोपन्ना ने सुरक्षा कारणों से पाक जाने से मना कर दिया था। भारतीय टेनिस महासंघ (एआईटीए) ने भी सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए थे। इसके बाद हिंदुस्तान व पाक का मुकाबला कजाकिस्तान के नूर-सुल्तान में खेला गया। पहले यह मैच पाक की राजधानी इस्लामाबाद में होना था।  

लिएंडर पेस ने हिंदुस्तान लौटने के बाद इशारा दिए कि वे जल्द ही अपने संन्यास पर निर्णय ले सकते हैं। हालांकि, पेस बार-बार यह कहते रहे हैं कि वे अगला ओलंपिक खेलना चाहते हैं। अगला ओलंपिक अगले वर्ष अगस्त में जापान में होना है। पेस ने इस मैच के आयोजन के लिए तथा टीम के कैप्टन रोहित राजपाल तथा कोच जीशान अली का शुक्रिया अदा किया।