IPL में मिले पैसों से अपने पिता का इलाज करवा रहा है ये युवा गेंदबाज, कहा...

IPL में मिले पैसों से अपने पिता का इलाज करवा रहा है ये युवा गेंदबाज, कहा...

कोविड-19 महामारी ने पूरे भारत में कहर मचा रखा है और लगातार इससे पॉजिटिव होने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। आइपीएल 2021 को भी कोविड-19 महामारी की वजह से ही स्थगित किया गया और इस लीग में खेलने वाले खिलाड़ियों के परिवार के सदस्य भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। इसी कड़ी में राजस्थान रॉयल्स के लिए पहली बार आइपीएल में खेलने वाले युवा तेज गेंदबाज चेतन सकारिया भी शामिल हैं। दरअसल चेतन के पिता कोविड पॉजिटिव हो गए और उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अब चेतन अपने पिता कांजीभाई का इलाज करवा रहे हैं और इसमें आइपीएल से मिले पैसों से उन्हें काफी मदद मिली। 

चेतन सकारिया ने कहा कि, वो भाग्यशाली हैं कि उन्हें वक्त पर आइपीएल का पेमेंट मिल गया और इसकी वजह से वो अपने पिता का इलाज करवा पा रहे हैं। द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए चेतन सकारिया ने कहा कि, मैं भाग्यशाली हूं क्योंकि कुछ दिनों पहले ही मेरे फ्रेंचाइजी ने मेरे हिस्से का भुगतान कर दिया था। मैंने तुरंत घर पैसे भेजे और इससे मेरे पिता के इलाज में काफी मदद हुई। चेतन के मुताबिक उनके पिता एक सप्ताह पहले ही कोविड पॉजिटिव हुए थे और अगर आइपीएल नहीं होता तो वो अपने पिता का इलाज करवा पाने में सक्षम नहीं थे। 


आइपीएल के बंद किए जाने के मामले पर बोलते हुए चेतन सकारिया ने कहा कि, कुछ लोग कह रहे हैं कि इसे बंद कर देना चाहिए, लेकिन मैं उन्हें ये बताना चाहता हूं कि मैं अपने परिवार में कमाने वाले एकमात्र व्यक्ति हूं। क्रिकेट मेरी कमाई का एकमात्र जरिया है। मैं अपने पिता को आइपीएल से मिले पैसों से ही बेहतर इलाज दे सकता हूं और अगर ये टूर्नामेंट एक महीने और नहीं होता तो मैं शायद उनका इलाज नहीं करवा पाता। मैं बेहद गरीब परिवार से हूं और मेरे पिता ने पूरी जिंदगी ऑटो चलाया और इस लीग की वजह से ही मेरी पूरी जिंदगी बदल गई। चेतन को इस सीजन में राजस्थान की टीम के एक करोड़ 20 लाख में खरीदा था।  


चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

विश्व को पहली बार टेस्ट चैंपियन मिलेगा या फिर आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की ट्रॉफी भारत और न्यूजीलैंड के बीच शेयर की जाएगी? इसका जवाब साउथैंप्टन में जारी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के नतीजे से तय होना है। सोमवार यानी 21 जून को मुकाबले के चौथे दिन एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी। बारिश की वजह से पूरे दिन का खेल बर्बाद हो गई मैच चौथे दिन के खेल के रद होने की जानकारी बीबीसीआइ ने ट्विटर के जरिए दी।

भारत को 217 रन पर समेटने के बाद न्यूजीलैंड की टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 45 ओवर में 2 विकेट खोकर 101 रन बनाए हैं। कप्तान केन विलियमसन और रोस टेलर नाबाद पवेलियन लौटे हैं।


आपकी जानकारी के लिए बता दें, 18 जून से ये महामुकाबला शुरू होना था, लेकिन बारिश के कारण मैच के पहले दिन टॉस तक नहीं फेंका जा सका। बारिश और खराब रोशनी की वजह से पहले दिन मैच नहीं हुआ और ऐसा दूसरे दिन भी चला, लेकिन दूसरे दिन करीब 60 ओवर का खेल हुआ और तीसरे दिन भी बारिश ने आंख-मिचौली की।

तीसरे दिन मुकाबला अपने समय से शुरू नहीं हो सका, जबकि बारिश और खराब रोशनी की वजह से मैच जल्दी समाप्त करना पड़ गया। अब चौथे दिन भी साउथैंप्टन में बारिश हुई है और लगातार रुक-रुककर हो रही है। ऐसे में चौथे दिन कितने ओवर इस मुकाबले में फेंके जाएंगे, ये देखने वाली बात होगी।

साउथैंप्टन के मौसम से जुड़ी रिपोर्ट की मानें तो आज पूरे दिन बारिश की संभावना है। खासकर पहले और तीसरे सत्र में बारिश की पूरी-पूरी संभावना है। ऐसे में अगर खेल प्रेमियों को कुछ ओवर देखने को मिलें तो अच्छी बात होगी, लेकिन मौजूदा समय और वेदर रिपोर्ट को देखें तो संभव नहीं लग रहा कि आज मैच की शुरुआत भी हो पाएगी। 


बिजली के खंभे के पास नहीं करें कोई काम, रिपेयरिंग के चक्‍कर में चली गई कैमूर के युवक की जान       आंधी-तूफान से धराशाई हो गए मिट्टी और फूस के बने गई घर, नवादा में पेड़-पौधों को भी पहुंचा नुकसान       बिहार में शिक्षकों के तबादले की तैयारी, जुलाई के पहले सप्ताह में जारी होगा शेड्यूल       रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर, बिहार में सात जोड़ी ट्रेनों का परिचालन 24 से होगा शुरू       फतेहपुर का 'श्याम' उत्तराखंड में कैसे बना 'उमर', यहां जानिए- पूरी प्रोफाइल       UP का पहला कोरोनामुक्त जिला बना महोबा, सीएम योगी ने की खूब तारीफ       उमर गौतम की गिरफ्तारी पर रिश्तेदारों ने दी प्रतिक्रिया, कहा...       कमरे में बंद कर बच्ची को दिखा रहा था अश्लील फिल्म, कर रहा था गंदी बात       गोरखपुर में फेरी लगाकर बेचते थे स्मैक, पुलिस ने पकड़ा, जानें       तीन साल बीत गए, अभी तक वातानुकूलित नहीं हुए स्टेशन प्रबंधकों के दफ्तर       श्रावस्ती में च‍िलच‍िलाती धूप में बैंक के सामने लेटा वृद्ध, अपने पैसों के ल‍िए आठ माह से लगा रहा था चक्‍कर       बीटेक, बीसीए अंतिम सेमेस्टर परीक्षाओं की त‍िथ‍ि घोष‍ित, जान‍िए क्‍या है पूरा शिड्यूल       बहराइच के कतर्नियाघाट में हाथी का उपद्रव, दो मकान को किया क्षतिग्रस्त-लोगों ने भागकर बचाई जान       रोबोट-ड्रोन जैसे यंत्र बनाना सीख जुड़े रोजगार से, राजकीय इंजीनियरिंग कालेज अंबेडकरनगर देगा न‍िश्‍शुल्‍क प्रश‍िक्षण       क्रिकेट मैदान की भांति सुखाई जा रही नींव, ढलाई का एक चौथाई कार्य पूरा       शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी पर दुष्कर्म का आरोप, लखनऊ में ड्राइवर की पत्नी ने दी तहरीर       दारोगा भर्ती के आवेदकों के लिए जरूरी सूचना, रजिस्टर्ड अभ्यर्थियों मिला अतिरिक्त मौका       सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरने की तैयारी तेज, भर्ती आयोग व बोर्ड अध्यक्षों की क्लास लेंगे सीएम योगी       न्यायमूर्ति एमएन भंडारी इलाहाबाद हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश नियुक्त       कोर कमेटी का 2022 में जीत को लेकर मंथन, बीएस संतोष के साथ CM योगी मौजूद