संजीता ने कही ये बात- "वह उसके विरूद्ध मानहानि का दावा ठोकने जा रही"

संजीता ने कही ये बात- "वह उसके विरूद्ध मानहानि का दावा ठोकने जा रही"

खेल मंत्रालय की ओर से अर्जुन अवॉर्ड देने की घोषणा होते ही राष्ट्रमंडल खेलों की दो बार की चैंपियन वेटलिफ्टर संजीता चानू ने अंतर्राष्ट्रीय वेटलिफ्टिंग संघ (आईडब्ल्यूएफ) को न्यायालय में घसीटने की तैयारी कर ली है. 


संजीता ने आईडब्ल्यूएफ की लीगल काउंसिल लीला सागी को बोला है कि वह उसके विरूद्ध मानहानि का दावा ठोकने जा रही हैं. उन्होंने बोला कि उन्हें डोपिंग के दाग से जरूर मुक्त कर दिया है, पर पूरा न्याय नहीं मिला है.
सागी को लिखे लेटर में बोला है कि वह जानना चाहती हैं कि किसे व किस तरह आईडब्ल्यूएफ के विरूद्ध अपील के लिए सम्पर्क करे. वह आशा करती हैं कि आईडब्ल्यूएफ उन्हें गलत डोप परिणाम उपलब्ध कराने के विरूद्ध केस दायर करने के लिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश व जानकारी मुुहैया कराएगा. हालांकि वह खुश हैं कि आईडब्ल्यूएफ ने अपनी गलती स्वीकार कर उन्हें डोप के आरोप से मुक्त किया है.तय नहीं की मानहानि की राशि : संजीता ने  स्वीकार किया है कि वह आईडब्ल्यूएफ के विरूद्ध मानहानि का दावा ठोकने जा रही हैं. साथ ही वह उन लोगों के विरूद्ध भी कार्रवाई कराने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगी जो इस मुद्दे में संलिप्त थे. हालांकि उन्होंने अभी यह तय नहीं किया है कि वह कितनी राशि का मानहानि का दावा करने जा रही हैं.