गांगुली ने टीम इंडिया को सिल्वर मेडल जीतने पर दी बधाई

गांगुली ने टीम इंडिया को  सिल्वर मेडल जीतने पर दी बधाई

नई दिल्ली: कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय स्त्री क्रिकेट टीम के मेडल का रंग गोल्डन हो सकता था, मगर, अपनी गलतियों के कारण टीम इण्डिया को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा. इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स में स्त्री क्रिकेट को शामिल किया गया था, जिसमें भारतीय टीम को गोल्ड मेडल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध आखिरी ओवर में 9 रनों से शिकस्त का सामना करना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में 161 रन बनाए थे और 162 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने 14.2 ओवर में दो विकेट पर 118 रन बना लिए थे, किन्तु इसके बाद विकेटों की ऐसी झड़ी लगी, कि पूरी टीम 152 रनों पर सिमट गई.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) चीफ और टीम इण्डिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भारतीय टीम को रजत पदक के लिए शुभकामना दी है. हालांकि, उनके ट्वीट में हार की टीस भी साफ दिखाई दी. गांगुली ने अपने ट्वीट में लिखा कि, ‘भारतीय स्त्री क्रिकेट टीम को सिल्वर मेडल के लिए बधाई… किन्तु, वह स्वदेश निराश लौटेंगी, क्योंकि यह मैच पूरी तरह से उनका था.’ 162 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए हिंदुस्तान ने 2.4 ओवर में 22 रनों तक स्मृति मंधाना और शेफाली वर्मा दोनों के विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद कप्तान हरमनप्रीत कौर और जेमिमा रॉड्रिगुएज ने अच्छी बल्लेबाज़ी करते हुए स्कोर को 118 रनों तक पहुंचाया. जेमिमा, मेगन शूट की गेंद पर क्लीन बोल्ड होकर पवेलियन लौटीं.

इसके बाद भारतीय टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए. हरमनप्रीत कौर भी दबाव में गैरजरूरी शॉट खेलकर अपना विकेट दे बैठीं. भारतीय स्त्री टीम ने इस मैच में बहुत बढ़िया गेंदबाजी और फील्डिंग की, मगर, बल्लेबाजों ने जिस तरह से आखिरी ओवरों में हथियार डाले, वह देखना दुखद था. हिंदुस्तान और ऑस्ट्रेलिया में जो सबसे बड़ा अंतर दिखाई दिया, वह दबाव झेलने का था. ऑस्ट्रेलिया मैच में पिछड़ने के बावजूद अंत तक लड़ी और फिर जीत हासिल कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया.