कैप्टन कोहली ने साहा को वेलिंगटन टेस्ट में बैठाया बाहर

कैप्टन कोहली ने साहा को वेलिंगटन टेस्ट में बैठाया बाहर

 न्यूजीलैंड (New Zealand) के विरूद्ध वनडे व टी20 सीरीज के बाद हिंदुस्तान (India) ने शुक्रवार को टेस्ट सीरीज की आरंभ की। दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच वेलिंगटन (Wellington) में खेला जा रहा है।

 भारतीय कैप्टन ने इस मुकाबले में विकेटकीपर के तौर पर ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को मौका दिया है। पंत सारे दौरे में टीम के साथ थे, हालांकि उन्हें मौका नहीं मिला। वनडे व टी20 सीरीज में टीम ने के एल राहुल (Kl Rahul) को बतौर विकेटकीपर टीम में मौका दिया था। कैप्टन कोहली ने साहा को वेलिंगटन टेस्ट में बाहर बैठा कर पंत को छह महीने बाद टीम में खेलने का मौका दिया है।

पहले टेस्ट में पंत को दिया गया मौका
टॉस हारने के बाद जब कैप्टन कोहली से टीम के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने बोला कि ऋद्धिमान साहा नहीं बल्कि ऋषभ पंत टीम के विकेटकीपर होंगे। कोहली के इस निर्णय से फैंस दंग हैं, क्योंकि साहा (Wriddhiman Saha) को कोहली व कोच रवि शास्त्री तक मौजूदा समय में संसार का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बता चुके हैं। हालांकि कोहली ने कीवी पिच पर साहा की बेहतर विकेटकिपिंग पर पंत की बल्लेबाजी को तरजीह दी है।



कप्तान कोहली के इस निर्णय के पीछे की अहम वजह है ऋषभ पंत की बल्लेबाजी जिसके कारण उन्हें साहा पर तरजीह दी गई है। इस सीरीज से पहले हिंदुस्तान में खेली गईं टेस्ट सीरीज में ऋद्धिमान साहा ने यह जिम्मेदारी उठाई थी व कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए थे। साहा ने भारतीय जमीन पर शानदार विकेटकीपिंग की जहां स्पिनर के विरूद्ध किपिंग करना बेहद कठिन माना जाता है। हालांकि बतौर बल्लेबाज साहा कुछ कमाल नहीं कर पाए।

साहा (Wriddhiman Saha) को लंबे समय बाद साउथ अफ्रीका के खिलाप टेस्ट सीरीज में टीम में शामिल किया गया था। साहा ने इस सीरीज में दो पारियों में 22.50 के औसत से केवल 45 रन बनाए थे। वहीं इसके बाद बांग्लादेश के विरूद्ध टेस्ट सीरीज में भी साहा दो पारियों में केवल 29 बना पाए थे। वहीं बात करें पंत की तो विदेशी जमीन पर उनका रिकॉर्ड साहा से बेहतर है। पंत ने पिछले वर्ष ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड के दौरे पर शतक जड़ा था। वहीं साहा SENA (साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड व ऑस्ट्रेलिया) के विरूद्ध साहा का बल्लेबाजी औसत केवल 14.87 ही है।