वीडियो लर्निंग से होते हैं अनेक फायदे, जाने इनसे में कुछ खास के बारे में

वीडियो लर्निंग से होते हैं अनेक फायदे, जाने इनसे में कुछ खास के बारे में

डिजिटल वीडियो लोकप्रियता के नए नए शिखर चढ़ती जा रही हैं, तो यह स्वाभाविक है कि यह वीडियो का प्रयोग एजुकेशन प्रदान करने के लिए भी हो. विद्यार्थी आज वीडियो का उपयोग एक टायर बदलने से लेकर लेटेस्ट डांस क्रेज तक सीखने के लिए करते हैं व मिलेनियल्स डिजिटल वीडियो देखने वाले दर्शकों का 92% भाग है. जो विषय जटिल होते हैं, उन्हें खासकर वीडियो के माध्यम से सीखना व सीखाना सरल होता है.

रिसर्च से यह भी पता चलता है की वीडियो बाकी माध्यमों की तुलना में विद्यार्थियों को कॉन्सेप्ट्स की बेहतर समझ व ज़्यादा मेमोरी रिकॉल प्रदान करती है.

आइये देखते हैं वीडियो लर्निंग के फायदे-

1. वीडियो लेसंस प्रिंटेड किताबों की तुलना में अधिक सुन्दर संवेदी अनुभव बनाते हैं. विद्यार्थियों को सिखाये जा रहे विषय को देखने व सुनने को मिलता है व वह उसका उसी तरह से अनुभव कर सकते हैं जिस तरह से वे अपनी इर्द गिर्द की संसार का अनुभव करते हैं.

2. वीडियो लेसंस इंटरनेट कनेक्शन के साथ कहीं से भी देखे जा सकते हैं, व लैपटॉप, टैबलेट व स्मार्टफ़ोन सहित कई उपकरणों पर उपलब्ध होते हैं. यह विद्यार्थी की सुविधा को बढ़ाते हैं व उनको कहीं से भी सीखने की सहूलियत प्रदान करते है.

3. वीडियो लेसंस सीखे हुए कॉन्सेप्ट्स को समझने में व याद रखने में बहुत मददगार होते हैं. ऐसा इसीलिए है क्योंकि उन्हें आवश्यकतानुसार कई बार रोका व दोहराया जा सकता है. प्रारंभिक पाठ पढ़ाए जाने के बाद भी उनकी समीक्षा की जा सकती है.

4. वीडियो लेसंस सभी विषयों को सीखने में बहुत सहायता करते हैं, लेकिन विशेष रूप से वो विषय जो जटिल हों या चरण-दर-चरण प्रक्रिया के बारे में हों या विज्ञान व गणित के फार्मूलो पर केंद्रित हों. ऐसा इसीलिए क्योंकि कठिन कांसेप्ट तभी समझे जा सकते हैं जब उनके पीछे की प्रक्रिया समझ आ सके. व वीडियो के ज़रिये यह करना बहुत सरल होता है.

5. वीडियो लेसंस की मदद से विद्यार्थी न सिर्फ जल्दी सीखते हैं, पर कांसेप्ट की गहराई में जाकर उसको समझते हैं ताकि न सिर्फ वो उन्हें याद रह सके बल्कि कभी भी उन्हें रटने की ज़रुरत न पड़े. पर पढ़ते समय एक बहुत ज़रूरी वस्तु होती है आपके फोकस का बने रहना.

यदि किसी कारणवश आपका ध्यान बाब बार भटके तो चीज़ें याद रखना कठिन होता है. इसीलिए ज़रूरी है कि वीडियो लेसंस से पढ़ाई करते वक़्त आप एक स्ट्रांग व स्मार्ट नेटवर्क जैसे एयरटेल 4G पर हों. इससे वीडियो की बुफ्फेरिंग ना के बराबर होगी व आप अपने वीडियो लेसंस बिना रुकावट के देख सकेंगे व आप अपना सारा ध्यान पढ़ाई में लगा सकेंगे. व यह बात केवल हम नहीं कह रहे बल्कि ओपन सिग्नल रिपोर्ट के भीतर एयरटेल को वीडियो स्ट्रीमिंग के लिए बाकी नेटवर्क प्रोवाइडर्स से आगे बताया गया है. यानि सीखना ज़्यादा व झंझट कम. बस एयरटेल 4G का सुपर स्ट्रॉन्ग कनेक्शन लीजिए व अपने स्मार्ट फोन को बना लीजिए अपनी स्मार्ट क्लास!