नए वर्ष में देश में कर्मचारियों की "सैलरी" इतने प्रतिशत बढ़ने के हैं आसार

नए वर्ष में देश में कर्मचारियों की "सैलरी" इतने प्रतिशत बढ़ने के हैं आसार

नए वर्ष में देश में कर्मचारियों की सैलरी 9.2 प्रतिशत बढ़ने की आसार है. यह ग्रोथ एशिया में सबसे ज्यादा होगी लेकिन महंगाई बढ़ने के चलते खेल बिगड़ सकता है. कॉर्न फेरी ग्लोबल सैलरी फोरकास्ट के मुताबिक,

महंगाई से एडजस्ट करने के बाद सैलरी में असल में सिर्फ 5% वृद्धि रहने की उम्मीद है. अगले वर्ष होने वाली 9.2% की यह ग्रोथ पिछले वर्ष की 10% वृद्धि से कम है. कॉर्न फेरी इंडिया के चेयरमैन व रीजनल मैनेजिंग डायरेक्टर नवनीत सिंह ने बोला कि वैश्विक मंच पर सैलरी में भारी गिरावटों के बावजूद हिंदुस्तान ने मजबूत ग्रोथ दर्ज कराई है.

वैश्विक स्तर पर सैलरी में 4.9% वृद्धि की उम्मीद
वैश्विक स्तर पर 2020 में 4.9% की दर से सैलरी बढ़ने की उम्मीद है. 2.8% के ग्लोबल इंफ्लेशन रेट के अंदाजे के बाद रियल-वेज सैलरी 2.1% की दर से बढ़ने की उम्मीद है. सबसे ज्यादा रियल वेज ग्रोथ एशिया में होने की उम्मीद है यहां सैलरी 5.3% से बढ़ने की आसार है, रियल वेज सैलरी 3.1% व महंगाई दर 2.2% रहने की उम्मीद है. इंडोनेशिया में 8.1% सैलरी ग्रोथ की उम्मीद है. मलेशिया में 5%, चाइना में 6% व कोरिया में 4.1% वृद्धि हो सकती है. सबसे कम सैलरी ग्रोथ में जापान आगे है. यहां पर 2% ग्रोथ रहने की आसार है.