‘वीट्रांस्फर डॉट कामॅ’ को ब्लॉक करने का मिला आदेश

‘वीट्रांस्फर डॉट कामॅ’ को ब्लॉक करने का मिला आदेश

सरकार ने इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स (ISP) को सुरक्षा कारणों से कंप्यूटर फाइल शेयरिंग वेबसाइट वीट्रांसफर (WeTransfer) पर रोक लगाने के लिए बोला है।

ये आदेश दिल्ली पुलिस के अनुरोध पर दिया गया है। दूरसंचार विभाग ने 18 मई को जारी आदेश मेंइंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को नीदरलैंड की वेबसाइट वीट्रांसफर पर दो डाउनलोड लिंक (download link) को व पूरी वेबसाइट ‘वीट्रांस्फर डॉट कामॅ’ को ब्लॉक करने को बोला है।

एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, ‘दिल्ली पुलिस ने सूचना प्रसारण मंत्रालय से दो लिंक को व पूरी वेबसाइट को तत्काल ब्लॉक करने का अनुरोध किया था। इसी के आधार पर ये आदेश दिया गया है। ’

मंत्रालय ने दूरसंचार विभाग को बोला है कि वह इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को बेवसाइट ब्लॉक करने का आदेश दें। विभिन्न इंटरनेट सेवाप्रदाताओं को ई-मेल के जरिए भेजे आदेश में दूरसंचार विभाग ने बोला है कि इसके अनुपालन की जानकारी तत्काल दी जाए, वरना लाइसेंस की शर्तों के तहत कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के लिए बता दें कि तीन दिन पहले से कंपनी के ऑफिशियल वेबसाइट खोलने पर ‘this site can’t be reached’ की एरर मिल रही है। इसी लेकर ट्विटर पर भी कई यूज़र्स ने शिकायत की है।

कुछ यूज़र्स का जवाब देते हुए Wetransfer ने लिखा, ‘ हमें रिपोर्ट मिली है कि हिंदुस्तान में इसे आंशिक रूप से ब्लॉक कर दिया गया है। हमारी टीम इसकी जाँच कर रही है, व जल्द इसकी जानकारी पेश करेगी। कुछ समय के लिए आप VPN सर्विस का प्रयोग करके वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं। ’

क्या है WeTransfer?
Weट्रांसफर बड़ी से बड़ी फाइल शेयर करने के लिए सबसे पॉपुलर वेबसाइट में एक है। ये कंपनी नीदरलैंड की है, व पूरी संसार में इसके करीब 5 करोड़ यूज़र्स हैं। इस प्लैटफॉर्म के ज़रिए हर महीने करोड़ों फाइल्स ट्रांसफर की जाती हैं।