आयकर डिपार्टमेंट ने चालू वित्त साल में अब तक इतने करोड़ कर रिफंड किए जारी

आयकर डिपार्टमेंट ने चालू वित्त साल में अब तक इतने करोड़ कर रिफंड किए जारी

आयकर डिपार्टमेंट ने चालू वित्त साल में अब तक 2.10 करोड़ कर रिफंड जारी किए हैं. इनकम टैक्स रिफंड प्रोसेस करने की विभाग की गति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बीते वित्त साल के मुकाबले इस वित्त के शुरुआती आठ महीने में 20 परसेंट अधिक रिफंड जारी हुए. रिफंड के तहत 1.46 लाख करोड़ रुपये की राशि आयकरदाताओं को जारी की गई.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के आंकड़ों के मुताबिक इनकम टैक्स विभाग के सेंट्रल प्रोसेसिंग सेंटर (सीपीसी) ने इस साल अप्रैल से 28 नवंबर तक की अवधि में 4.70 करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न प्रोसेस किए. बीते वित्त साल की इसी अवधि में प्रोसेस किए गए इनकम टैक्स रिटर्न की संख्या 3.91 करोड़ थी. सीबीडीटी के मुताबिक असेसमेंट ईयर 2019-20 के लिए सीपीसी ने शुरुआती आठ महीनों में 2.10 करोड़ रिफंड प्रोसेस किए. जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 1.75 करोड़ रिफंड जारी हुए थे.

 

यदि रिफंड के तहत जारी की गई राशि की तुलना करें तो बीते वर्ष इस अवधि में 1.19 लाख करोड़ रुपये जारी हुए थे. चालू वित्त साल में इसमें 22.7 परसेंट की बढ़ोतरी हुई है.अप्रैल-नवंबर, 2019 की अवधि में प्रोसेस हुए रिफंड में 68 परसेंट को ई-वेरिफिकेशन के 30 दिनों के भीतर जारी कर दिया गया. बीते वित्त साल में यह आंकड़ा 57 परसेंट का था.

सीबीडीटी के मुताबिक इस साल अब तक प्रोसेस सभी रिफंड की राशि आयकरदाताओं के बैंक खातों में ईसीएस के जरिए सीधी पहुंचाई गई. 29 नवंबर तक सीपीसी में वेरिफाइड बकाया रिफंड की संख्या 20.76 लाख थी व इनकी प्रोसेसिंग का कार्य अभी चल रहा है. सीबीडीटी अधिकारियों का बोलना है कि न केवल पिछले वर्ष के मुकाबले अधिक रिफंड प्रोसेस हुए हैं, बल्कि वेरिफाइड बकाया रिफंड की संख्या में भी कमी दर्ज की गई है. पिछले वर्ष 29 नवंबर तक 31.97 लाख बकाया रिफंड थे जो इस वर्ष 36 परसेंट घटकर 20.67 लाख रह गए