सरकार वैसे 2000 रुपये के नोट को नहीं कर रही बंद

सरकार वैसे 2000 रुपये के नोट को नहीं कर रही बंद

सरकार वैसे 2000 रुपये ने नोट को बंद नहीं कर रही है. वित्त व कारपोरेट मामलों के प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने मंगलवार को राज्यसभा में एक प्रश्न के जवाब में बोला कि सरकार की ओर से वैसे 2000 रुपये के नोट को बंद करने की कोई योजना नहीं है. 

दरअसल, उनसे पूछा गया था कि क्या सरकार चरणबद्ध ढंग से दो हजार रुपये के नोट को बंद करने जा रही है, अनुराग ठाकुर ने इसी के बारे में जवाब दिया. बता दें कि 2016 में सरकार की ओर से नोटबंदी में 500 व 1000 रुपये के नोट को बंद करने के बाद से 2,000 के नोट चलन में आए थे.

आयकर विभाग (आईटीडी) द्वारा पिछले तीन वित्तीय सालों में 5 करोड़ से अधिक नकद रुपये जब्त किए गए हैं. जब्त की गई कुल नकदी में से वित्त साल 2017-18 में 2,000 रुपये के 67.91% नोट जब्त किए गए. 2018-19 में यह आंकड़ा 65.93% रहा, जबकि मौजूदा वित्त साल में यह घटकर 43.22% पर आ गया.

इस बीच, पूर्व वित्त सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने बोला कि 2,000 रुपये के नोट लेनदेन के लिए ज्यादा प्रयोग नहीं किए जाते हैं व चलन में भी कम हैं इसलिए इन्हें बंद करके छोटे नोटों को चलन में लाने से जनता को सहूलियत होगी.

नहीं जाएगी किसी की नौकरी

सार्वजनिक क्षेत्रों के विभिन्न बैंकों के विलय से नौकरियां जाने की संभावना को खारिज करते हुए वित्त प्रदेश मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने बोला कि किसी की जॉब नहीं जाएगी, बल्कि कर्मचारियों के हितों की रक्षा होगी व ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी.