किसानों की लोन माफी को लेकर सरकार ने कही ये बात, आपके लिए भी जानना है जरूरी

किसानों की लोन माफी को लेकर सरकार ने कही ये बात, आपके लिए भी जानना है जरूरी

देश में किसानों का कर्ज माफ करने के बारे में केंद्र सरकार विचार नहीं कर रही है। लोकसभा में सोमवार को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में वित्त राज्यमंत्री भागवत कराड ने कहा कि केंद्र ने 'कृषि ऋण माफी और ऋण राहत योजना (अवार्ड्स), 2008' के बाद से कोई कृषि कर्ज माफी योजना लागू नहीं की है। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री ने कहा, 'देश में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसानों सहित किसानों का कर्ज माफ करने का भारत सरकार के पास कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है।'

उन्होंने किसानों के कर्ज के बोझ को कम करने और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों सहित कृषि में लगे लोगों के कल्याण के लिए सरकार और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी।

मंत्री ने तीन लाख रुपये तक के अल्पकालिक फसल ऋण के लिए ब्याज सहायता, रिजर्व बैंक के गिरवी या रेहन-मुक्त कृषि ऋण की सीमा को एक लाख रुपये से बढ़ाकर 1.6 लाख रुपये करने और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये की प्रत्यक्ष आय सहायता जैसी योजनाओं का हवाला दिया।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) केंद्र सरकार की एक अति महत्वाकांक्षी योजना है। इस स्कीम के तहत सरकार पात्र किसानों को हर वित्त वर्ष में 6,000 रुपये की रकम नकद सहायता के तौर पर उपलब्ध कराती है। सरकार तीन बराबर किस्तों में किसानों के खातों में यह नकद सहायता डालती है। इस स्कीम के तहत अब तक आठ किस्त किसानों को भेजे जा चुके हैं। नौवीं किस्त अगस्त से नवंबर के बीच किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी। 


इस योजना के लिए कोई भी पात्र किसान पीएम किसान की वेबसाइट से अप्लाई कर सकता है। इसके साथ ही आवेदन की स्थिति की जानकारी भी वेबसाइट से ली जा सकती है। 


सोने के दाम में तेजी, चांदी की कीमत भी चढ़ी, जानें क्या हो गए हैं रेट

सोने के दाम में तेजी, चांदी की कीमत भी चढ़ी, जानें क्या हो गए हैं रेट

सोने एवं चांदी की कीमतों में बुधवार को तेजी देखने को मिली। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक सोने के दाम में 196 रुपये प्रति 10 ग्राम की बढ़ोत्तरी देखने को मिली। इससे हाजिर बाजार में सोने का रेट 45,746 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। इससे पिछले सत्र में 10 ग्राम सोने का रेट 45,550 रुपये पर रहा था। मजबूत वैश्विक संकेतों और रुपये के मूल्य में गिरावट से सोने के दाम में यह बढ़ोत्तरी देखने को मिली।

चांदी की कीमत में भी तेजी

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक चांदी की कीमत में 319 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। इससे चांदी की कीमत 59,608 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। इससे पिछले सत्र में चांदी की कीमत 59,289 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये 26 पैसे कमजोर होकर 73.87 के स्तर पर रह गया।

वैश्विक बाजार में सोने-चांदी की कीमत

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने का भाव बढ़त के साथ 1,776 डॉलर प्रति औंस पर रहा। वहीं, चांदी की कीमत 22.72 डॉलर प्रति औंस पर सपाट रही।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज में सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा, ''यूएस एफओएमसी (फेडरल ओपन मार्केट कमेटी) से पूर्व की अटकलों और चीन के एवरग्रांड संकट की वजह से पैदा हुई अनिश्चितताओं से बाजार को मिले-जुले संकेत मिले। इससे बुलियन में लिवाली को बढ़ावा मिला।''

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटीज) नवनीत दमानी ने कहा, ''चीन के एवरग्रांड संकट एवं 2021 में निचले स्तर की वृद्धि दर के अनुमान की वजह से एक तरह की असहज स्थिति पैदा हुई। इससे बुलियन में तेजी देखने को मिली। अमेरिकी फेड पॉलिसी मीटिंग से पूर्व सेफ हैवेन में लिवाली देखने को मिली।''