Tesla में काम करने का बेहतरीन मौका, एलन मस्क कंपनी में हायरिंग के लिए बना रहे AI Day की योजना

Tesla में काम करने का बेहतरीन मौका, एलन मस्क कंपनी में हायरिंग के लिए बना रहे AI Day की योजना

भारत में टेस्ला के आगमन की खबर जोरो पर है। लोग बेसब्री से टेस्ला की गाड़ियों को भारतीय सड़कों पर देखने के लिए इंतजार कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर लगातार सक्रिय रहने वाले मस्क ने ट्विटर के जरिए कहा कि , "लगभग एक महीने में टेस्ला एआई दिवस आयोजित करने पर विचार कर रही है। टेस्ला एआई सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर, प्रशिक्षण और अनुमान दोनों के लिए होगा। जिसका उद्देश्य भर्ती है।" इस AI Day में दुनिया के अग्रणी इलेक्ट्रिक वाहन सेगमेंट में नौकरी करने वाले लोग टेस्ला में काम करने का मौका पा सकते हैं।

टेस्ला में काम करने का मौका: टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने खुलासा किया है कि वह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) सॉफ्टवेयर में हुई प्रगति और हायरिंग के उद्देश्य से एआई दिवस आयोजित करने की योजना बनाई गई है। बता दें, टेस्ला बीते कुछ समय से अपने सेल्फ ड्राइविंग वाहनों को लेकर चर्चा में है। कुछ लोग लगातार टेस्ला के सेल्फ ड्राइविंग वाहनों पर सवाल उठा रहे हैं। मस्क ने बाद में एक ट्वीट पोस्ट का जवाब दिया और कहा कि टेस्ला नए विचारों की योजना बनाने और उन्हें अपनाने के लिए सही जगह है। टेस्ला हमेशा से अपने बेहतरीन इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए जानी जाती है। यह दुनिया की सेल्फ-ड्राइव क्षमताओं वाली वाहन कंपनियों में सबसे आगे रहा है।

"Autopilot" or "Full self-driving पर उठ रहे सवाल: मस्क ने जनवरी में एक कॉल के दौरान कहा था कि उन्हें विश्वास है कि कार इस साल मानव से अधिक विश्वसनीयता के साथ सेल्फ ड्राइविंग में सक्षम होगी।" लेकिन मई में, टेस्ला ने कैलिफोर्निया मोटर वाहन विभाग को सूचित किया कि यह पूरी तरह से सही नहीं है। फिलहाल ऑटोमेकर टेस्ला की कैलिफोर्निया नियामक द्वारा समीक्षा की जा रही है, जो जांच कर रहा है कि क्या कंपनी ने अपने उन्नत ड्राइवर असिस्ट सिस्टम प्रणालियों को "autopilot" or "full self-driving", के रूप में गलत तरीके से प्रचारित करके नियमों का उल्लंघन किया है।

भारत में टेस्ला की पहली लॉन्च: भारत में टेस्ला इस साल के अंत तक अपनी पहली कार टेस्ला मॉडल 3 को लॉन्च कर सकती है। जिसे हाल ही में पुणे की सड़कों पर टेस्टिंग के दौरान देखा गया है। कंपनी पहले से ही अपनी सहायक कंपनी टेस्ला इंडियन मोटर्स एंड एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड को बेंगलुरु, कर्नाटक में पंजीकृत कर चुकी है। उम्मीद की जा रही है कि इसका भारत का मुख्यालय मुंबई में होगा और इसके शोरूम दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु जैसे शहरों में होंगे। बता दें, टेस्ला मॉडल 3 सबसे किफायती टेस्ला कार है।


7वां वेतन आयोग : अब इस राज्य के कर्मचारियों का बढ़ा महंगाई भत्ता

7वां वेतन आयोग : अब इस राज्य के कर्मचारियों का बढ़ा महंगाई भत्ता

जम्मू-कश्मीर के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए खुशखबरी है। अब राज्य के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ता Dearness Allowance (DA) 1 जुलाई से मौजूदा 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद कर दिया गया है। सोमवार को इस बाबत फैसला लिया गया। मालूम हो कि हाल ही में झारखंड के सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (DA) 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद किया गाया था। इसके अलावा केंद्र सरकार ने भी अपने कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाया था, जिसके बाद राज्य भी DA बढ़ाने का ऐलान कर रहे हैं।

सरकार ने 14 जुलाई को केंद्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ता (DA) और महंगाई राहत (DR) 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद करने की घोषणा की थी। दरअसल, केंद्र के कर्मचारियों को लंबे समय से महंगाई भत्ता बढ़ने का इंतजार था। इसके लिए करीब डेढ़ साल इंतजार करना पड़ा।


जम्मू सरकार की ओर से बढ़ाये गए महंगाई भत्ते का फायदा राज्य सरकार के पेंशनभोगियों/पारिवारिक पेंशनभोगियों को मिलेगा, इसके लिए 1 जुलाई 2021 से महंगाई राहत की दरों में वृद्धि करने की भी सहमति दी गई है।

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक सरकार ने भी हाल ही में महंगाई भत्ते की अतिरिक्त किश्तों को जारी करने का आदेश दिया था। राज्य सरकार ने मंगाई भत्ते को 11.25 फीसद से बढ़ाकर 21.5 फीसद किया था। यह जनवरी 2020 से जून 2021 की अवधि के लिए था। दरअसल, कोविड-19 महामारी की वजह से इन किश्तों को रोक कर रखा गया था।


उधर, राजस्थान सरकार ने भी 14 जुलाई को राज्य सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते को 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद करने का ऐलान किया था। इसके अलावा हरियाणा सरकार ने भी 24 जुलाई को महंगाई भत्ते की दर को 17 फीसद से बढ़ाकर 28 फीसद करने की घोषणा की थी।