Samsung अपने इस फीचर को करेगी Quick Share के नाम से इंट्रोड्यूस

Samsung अपने इस फीचर को करेगी Quick Share के नाम से इंट्रोड्यूस

दक्षिण कोरियाई Smart Phone व इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाने वाली कंपनी Samsung अगले महीने अपने यूजर्स के लिए क्विक फाइल ट्रांसफरिंग फीचर को भूमिका आउट कर सकता है. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि Samsung का ये कदम प्रीमियम Smart Phone बनाने वाली राइवल कंपनी Apple को चुनौती देने के लिए उठाया गया कदम बोला जा सकता है. वैसे केवल Apple के iPhone एवं अन्य डिवाइस में तेजी से फाइल ट्रांसफरिंग की सुविधा उपलब्ध है. इस फीचर को Apple AirDrop के नाम से जाना जाता है.

Apple AirDrop की मदद से Apple के डिवाइसेज में फोटोज, वीडियोज, फाइल्स आदि को वाई-फाई व वायरलेस कनेक्टिविटी के जरिए तेजी से ट्रांसफर की जा सकती है. Samsung ने भी Apple के डिवाइसेज में मिलने वाले इस फीचर को फरवरी में लाने की तैयारी कर ली है. पिछले दिनों ही समाचार ये भी आई थी की Xiaomi, Vivo, OPPO, OnePlus जैसी चीनी Smart Phone निर्माता कंपनी भी Apple AirDrop की तरह ही फीचर डेवलप करने वाली है.

XDA Developers की रिपोर्ट के मुताबिक, Samsung अपने इस फीचर को Quick Share के नाम से इंट्रोड्यूस कर सकता है. इस फीचर के जरिए गैलेक्सी स्मार्टफोन्स के बीच तेजी से फाइल ट्रांसफर की जा सकेगी. Apple AirDrop की तरह ही इसमें यूजर्स के पास ये ऑप्शन रहेगा कि वो फाइल भेजने वाले यूजर्स को रिस्ट्रिक्ट कर सकते हैं. यानि की यूजर्स की मर्जी के बिना उनके डिवाइस में Quick Share के जरिए फाइल ट्रांसफर नहीं की जा सकेगी.

Apple AirDrop की तरह ही Samsung Quick Share में यूजर्स के पास ऑप्शन होगा कि वे अपने फाइल्स को क्लाउड में स्टोर कर सके. हालांकि, इसमें यूजर्स के पास एक लिमिट होगी कि वो 1GB या फिर 2GB तक ही क्लाउड में स्टोर कर सकेंगे.

आपको बता दें कि Apple ने AirDrop को iOS7 के साथ इंट्रोड्यूस किया था. अब ये फाइल ट्रांसफरिंग विशेषता उसके बाद आने वाले सभी ऑपरेटिंग सिस्टम में देखा जा सकता है. Samsung डिवाइसेज में NFC आधारित Android Bream फीचर की मदद से Quick Share का प्रयोग किया जा सकेगा. इस फीचर को Android 10 या उससे ऊपर के डिवाइसेज के लिए भूमिका आउट किया जा सकता है. हालांकि, वैसे कंपनी की तरफ से कोई भी आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है.

Apple AirDrop की तरह ही Quick Share के जरिए पियर-टू-पियर फाइल ट्रांसफरिंग की सुविधा मिल सकती है. इस फीचर को दक्षिण कोरियाई कंपनी अगले महीने आयोजित होने वाले मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस पार्टी MWC 2020 में इंट्रोड्यूस कर सकती है.