रेमंड कही यह बात, 'रेमंड ब्रांड का स्वामित्व नयी लाइफस्टाइल के पास ही रहेगा'

रेमंड कही यह बात, 'रेमंड ब्रांड का स्वामित्व नयी लाइफस्टाइल के पास ही रहेगा'

रेमंड ने सोमवार को बोला कि रेमंड ब्रांड का स्वामित्व नयी लाइफस्टाइल के पास ही रहेगा. इससे पहले कंपनी ने उपभोक्ता व लाइफस्टाइल कारोबार को अलग इकाई में बदलने की घोषणा की थी. रेमंड ने बीएसई फाइलिंग में बोला कि लाइफस्टाइल कारोबार से संबंधित ब्रांडों के स्वामित्व के विषय में उसने उद्योग व वित्तीय विशेषज्ञों के साथ परामर्श किया था. 

प्रस्तावित योजना को एक बार एनसीएलटी से मंजूरी मिलने के बाद रेमंड लाइफस्टाइल कारोबार को ब्रांडों के प्रयोग के लिए रेमंड लिमिटेड को किसी भी रॉयल्टी का भुगतान नहीं करना पड़ेगा. रेमंड लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक गौतम हरि सिंघानिया ने बोला कि, 'मैं संबंधित कंपनियों के साथ ब्रांड स्वामित्व संबंधी प्रबंधन के निर्णय से खुश हूं. अब कोई अंतर ब्रांड लाइसेंस अधिकार या रॉयल्टी अनुबंध नहीं होगा.'

रियल एस्टेट कारोबार में उतरी थी रेमंड 

1927 से लेकर अभी तक 'द कंप्लीट मैन' की टैगलाइन से परिधान और टेक्सटाइल बनाने वाली कंपनी रेमंड इसी वर्ष रियल एस्टेट कारोबार में उतर गई थी. अप्रैल में समाचार आई थी कि कंपनी फ्लैटों का निर्माण करके बेचेगी. इससे पहले गोदरेज व टाटा संस जैसी पुरानी कंपनियां भी रियल एस्टेट सेक्टर में मकानों का निर्माण और बिक्री कर रही हैं. 

यह है कंपनी का नाम

कंपनी ने एक बयान में बोला कि रेमंड समूह ने रियल्टी क्षेत्र के कारोबार के लिए रेमंड रियल्टी नाम से नयी कंपनी प्रारम्भ की है. रेमंड ने ऐसे समय में रियल एस्टेट क्षेत्र में कदम रखा है, जब क्षेत्र बढ़ते लोन व आर्थिक तंगी से जूझ रहा है.