KYC अपडेट करने के लिए ग्राहक को दिसंबर तक का समय दें बैंक, RBI ने दी सख्‍त हिदायत

KYC अपडेट करने के लिए ग्राहक को दिसंबर तक का समय दें बैंक, RBI ने दी सख्‍त हिदायत

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा है कि 31 दिसंबर 2021 तक कोई भी Bank Account खाताधारक की KYC अपडेट न होने के कारण Freeze नहीं किया जाएगा। साथ ही यह भी कहा कि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां (NBFC) और भुगतान प्रणाली परिचालक आधार ई-केवाईसी सत्यापन लाइसेंस (Aadhaar E kyc Verification) के लिए केंद्रीय बैंक के पास आवेदन कर सकते हैं। मई, 2019 में वित्त मंत्रालय ने बैंकिंग कंपनियों को छोड़कर अन्य इकाइयों द्वारा आधार सत्यापन सेवाओं के इस्तेमाल के लिए आवेदन को विस्तृत प्रक्रिया जारी की थी।

आधार ईकेवाईसी वेरिफिकेशन

रिजर्व बैंक की ओर से जारी सर्कुलर में कहा गया है कि एनबीएफसी, भुगतान प्रणाली परिचालरक और भुगतान प्रणाली भागीदार आधार सत्यापन लाइसेंस-केवाईसी प्रयोगकर्ता एजेंसी (केयूए) लाइसेंस या उप-केयूए लाइसेंस के लिए विभाग को आवेदन कर सकते हैं जिसे आगे यूआईडीएआई (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के पास भेजा जाएगा।

Sandbox योजना

इसके साथ ही रिजर्व बैंक ने कहा है कि नियामकीय ‘सैंडबॉक्स’ योजना के तहत छह इकाइयों ने ‘पहले समूह’ का परीक्षण चरण पूरा कर लिया है। इसका विषय खुदरा भुगतान है। उनके उत्पादों को नियामकीय इकाइयों द्वारा स्वीकार्यता के लिए व्यावहारिक माना गया है। केंद्रीय बैंक ने कहा कि इन इकाइयों के उत्पाद मुख्य रूप से ऑफलाइन डिजिटल भुगतान, प्रीपेड कार्ड, संपर्करहित भुगतान और वॉयस आधारित यूपीआई से संबंधित हैं।

नए प्रोडक्‍ट और सर्विस की टेस्टिंग

नियामकीय सैंडबॉक्स से सामान्य तौर पर तात्पर्य नियंत्रित/परीक्षण वाले नियामकीय माहौल में नए उत्पादों और सेवाओं के सीधे परीक्षण से होता है। इसमें नियामक कुछ रियायतों की अनुमति भी दे सकता है। पहले समूह में जिन इकाइयों के उत्पाद रिजर्व बैंक द्वारा तय निमयों के अनुकूल पाए गए हैं उनमें न्यूक्लियस सॉफ्टवेयर एक्सपोर्ट्स (पेसे), टैप स्मार्ट डेटा इन्फॉर्मेशन सर्विसेज (सिटीकैश), नैचुरल सपोर्ट कंसल्टेंसी सर्विसेज (आईएनडी-ई-कैश), नफा इनोवेशंस (टोन टैग), उबोना टेक्नोलॉजीज (भीम वॉयस) और ईरूट टेक्नोलॉजीज (सिम के जरिये ऑफलाइन भुगतान) शामिल हैं।


सोने के दाम में तेजी, चांदी की कीमत भी चढ़ी, जानें क्या हो गए हैं रेट

सोने के दाम में तेजी, चांदी की कीमत भी चढ़ी, जानें क्या हो गए हैं रेट

सोने एवं चांदी की कीमतों में बुधवार को तेजी देखने को मिली। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक सोने के दाम में 196 रुपये प्रति 10 ग्राम की बढ़ोत्तरी देखने को मिली। इससे हाजिर बाजार में सोने का रेट 45,746 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। इससे पिछले सत्र में 10 ग्राम सोने का रेट 45,550 रुपये पर रहा था। मजबूत वैश्विक संकेतों और रुपये के मूल्य में गिरावट से सोने के दाम में यह बढ़ोत्तरी देखने को मिली।

चांदी की कीमत में भी तेजी

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक चांदी की कीमत में 319 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। इससे चांदी की कीमत 59,608 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। इससे पिछले सत्र में चांदी की कीमत 59,289 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये 26 पैसे कमजोर होकर 73.87 के स्तर पर रह गया।

वैश्विक बाजार में सोने-चांदी की कीमत

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने का भाव बढ़त के साथ 1,776 डॉलर प्रति औंस पर रहा। वहीं, चांदी की कीमत 22.72 डॉलर प्रति औंस पर सपाट रही।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज में सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा, ''यूएस एफओएमसी (फेडरल ओपन मार्केट कमेटी) से पूर्व की अटकलों और चीन के एवरग्रांड संकट की वजह से पैदा हुई अनिश्चितताओं से बाजार को मिले-जुले संकेत मिले। इससे बुलियन में लिवाली को बढ़ावा मिला।''

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटीज) नवनीत दमानी ने कहा, ''चीन के एवरग्रांड संकट एवं 2021 में निचले स्तर की वृद्धि दर के अनुमान की वजह से एक तरह की असहज स्थिति पैदा हुई। इससे बुलियन में तेजी देखने को मिली। अमेरिकी फेड पॉलिसी मीटिंग से पूर्व सेफ हैवेन में लिवाली देखने को मिली।''