तीन वर्ष की बच्ची को अगवा कर किया दुष्कर्म

तीन वर्ष की बच्ची को अगवा कर किया दुष्कर्म

दरिंदगी की सभी हदें पार करते हुए एक युवक ने फुटपाथ पर मां-बाप के साथ सो रही तीन वर्ष की मासूम का किडनैपिंग कर उसके साथ बलात्कार किया. हवसी मासूम को खून से लथपथ दशा में छोड़कर फरार हो गया. खोजते हुए रेलवे स्टेशन पहुंची मां को अपनी लाडली रोती-बिलखती हुई मिली. राहगीरों ने सूचना एसपी को दी.

Image result for तीन वर्ष की बच्ची को अगवा कर किया दुष्कर्म

एसपी के आदेश पर तुरंत डीएसपी हेडक्वार्टर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और बच्ची को सामान्य अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों की बोर्ड टीम ने बच्ची का मेडिकल किया और उसे प्राथमिक इलाज के बाद रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया. जहां इलाज के दौरान बच्ची के दशा गंभीर बनी हुई है.

पहले मां के साथ की थी छेड़छाड़
मंगलवार देर रात एक काली कमीज व कैपरी पहने हुए एक युवक रेलवे मोड़ से आगे जीटी रोड पर वर्धमान कम्युनिकेशन एंड फैंसी रोशनी दुकान के बाहर आया. जहां पर भिक्षुक अपाहिज मां और उसकी 3 वर्ष की बेटी थी. वहां आने के बाद उस युवक ने अपाहिज महिला से छेड़छाड़ करनी प्रारम्भ कर दी, जिसका विरोध महिला ने किया लेकिन आरोपी बेशर्मी करता रहा. इस दौरान महिला ने उसके पास पड़े डंडे से उस युवक की पिटाई करनी प्रारम्भ कर दी तब वो वहां से भाग गया.

सुबह 5:03 बजे दरिंदे ने मासूम को किया अगवा

उक्त एड्रैस पर दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है कि उसी वेश-भूषा में वो ही युवक रात करीब साढ़े 3 बजे के बाद से घूमता हुआ दिखाई दे रहा था. फुटपाथ पर सो रहे दंपती के इर्द-गिर्द उसने इस डेढ़ घंटे के भीतर 25 से भी ज्यादा चक्कर काटे.

कई बार वो बच्ची के पास भी गया लेकिन हर बार जीटी रोड पर कोई न कोई वाहन चालक आ जाता था, जिस कारण वो वहां से कुछ दूरी पर चला जाता था. प्रातः काल 5 बजकर 3 मिनट 50 सेकेंड वो गहरी नींद में सो रही मासूम को गोद में उठाकर वहां से रेलवे रोड की ओर चला गया.

घटना के 10 मिनट बाद ही पिता की आंख खुली, तो प्रारम्भ की तलाश
प्रातः काल 5 बजकर 3 मिनट पर लाडली अगवा हुई, इसके करीब 10 मिनट बाद पिता की आंख खुल गई. जिस दौरान उसने देखा कि उसकी बेटी उनके पास नहीं है. पति-पत्नी दोनों उठने के बाद पिता लाल बत्ती की तरफ और मां रेलवे स्टेशन की तरफ बेटी को तलाशने चले गये. मां को बेटी रेलवे स्टेशन के बाहर खून से लथपथ हालत में रोती हुई मिली.

एक राहगीर ने पूरी जानकारी लेकर एसपी सुमित कुमार के सरकारी मोबाइल नंबर पर फोन कर वारदात की सूचना दी. पुलिस मौके पर पहुंची और बच्ची को सामान्य अस्पताल लेकर गए.

जहां डॉक्टरों की बोर्ड टीम डाक्टर सुखदीप कौर और शशि गर्ग ने बच्ची का मेडिकल किया और उसे प्राथमिक इलाज के बाद उसकी हालत गंभीर होते देख उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया. डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची के गुप्तांग में अंदरूनी तौर पर बेहद घाव है, इसके अलावा खून भी बेहद बह चुका था.

वारदात स्थल से लेकर रेलवे रोड तक के पांच से भी ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग ले चुके हैं. आरोपी बच्ची को उठा कर रेलवे स्टेशन की ओर ले जाता हुआ दिखाई दे रहा है.आरोपी की गिरफ्तारी के लिए तीनों सीआइए सहित सिटी थाना पुलिस जुटी हुई है. जल्द ही आरोपी को अरैस्ट कर लिया जाएगा.