पोम्पिओ ने कहा, हमारे लोगों के मध्य क्या संभव है

पोम्पिओ ने कहा, हमारे लोगों के मध्य क्या संभव है

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने हिंदुस्तान में हुए लोकसभा चुनाव के लोकप्रिय नारे ‘‘मोदी है तो मुमकिन है’’ का उल्लेख करते हुए हिंदुस्तान के साथ द्विपक्षीय संबंधों को अगले चरण पर ले जाने की ख़्वाहिश जाहिर की है, साथ ही बोला है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प व मोदी प्रशासन के पास ऐसा करने का ‘‘अद्वितीय अवसर’’ है।

पोम्पिओ ने ‘इंडिया आइडियाज समिट ऑफ अमेरिका-इंडिया बिजनेस काउंसिल’ में हिंदुस्तान की नीति संबंधी अपने जरूरी सम्बोधन में बुधवार को बोला है कि, ‘‘जैसा कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी हालिया प्रचार अभियान में बोला था कि, ‘मोदी है तो मुमकिन है’, तो उसी के ध्यान में रखते हुए मैं यह पता लगाना चाहता हूं कि हमारे लोगों के मध्य क्या संभव है। ’’

इस माह नयी दिल्ली की अपनी यात्रा व प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी एवं विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात के लिए उत्सुक पोम्पिओ ने कुछ ‘‘बड़े विचारों व बड़े अवसरों’’ का उल्लेख किया, जो दोनों राष्ट्रों के संबंध को नए स्तर पर ले जा सकते हैं। उन्होंने अपने हिंदुस्तान मिशन की जानकारी देते हुए बोला कि उनका सच में मानना है कि दोनों राष्ट्रों के पास अपने लोगों, हिंद-प्रशांत क्षेत्र व दुनिया की भलाई के लिए एक साथ आगे बढ़ने का अद्वितीय मौका है। पोम्पिओ 24 से 30 जून तक भारत, श्रीलंका, जापान व दक्षिण कोरिया के भ्रमण पर रहेंगे।