नो पार्किंग पर खड़ी की गाड़ी तो भुगतना पड़ेगा इतना जुर्माना...

नो पार्किंग पर खड़ी की गाड़ी तो भुगतना पड़ेगा इतना जुर्माना...

मुंबई में अब नो पार्किंग पर गाड़ी खड़ी करने पर कानून कठोर कर दिए गए हैं, जिसके चलते मेयर विश्वनाथ महाडेश्वर को भीगाड़ी खड़ी करने पर जुर्माना भरना पड़ा है।दरअसल, पिछले दिनों दक्षिण मुंबई में नो-पार्किंग ड्राईव प्रारम्भ हो गई थी। जो मुंबई में बहस का मामला बना। , पार्किंग जोन की कमी के साथ साथ 10 हजार तक पार्किंग जुर्माना वसूलने तक कई सारे मामले उठे। अब नो पार्किंग के लिए मेयर का ही चलान कटने से यह मामला फिर से गरमा गया है।

मुंबई ट्राफिक पुलिस ने मुंबई के मेयर विश्वनाथ महाडेश्वर की गाड़ी कोपाया। विलेपार्ले इलाके में अच्छा नो पार्किंग साईन बोर्ड के निचे मेयर की गाड़ी खड़ी की गई थी। वह किसी प्रोग्राम के लिए वहां पर आए थे। यह एरिया बहुत ज्यादा भीड़ भाड़ वाला क्षेत्र है। अंधेरी व विलेपार्ले की गाड़ियां यहां से होकर जाती हैं। जिसके चलते इस इलाके को घोषित किया गया है।ऐसे में मेयर महाडेश्वर की गाड़ी का वहां पर पाए जाने के कारण ट्राफिक पुलिस हरकत मे आ गई व उन्होनें चलान काटा।

हालांकि यह चलान कितने रुपये का था इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है, लेकिन मेयर की गाड़ी का चलान काटकर शायद पुलिस यह साबित करना चाहती है कि शहर का प्रथम नागरीक भी नियमों से बड़ा नही हो सकता। बता दें दो सप्ताह पहले ही मुंबई मनपा में नो पार्किंग के जुर्माने पर हंगामा बरपा था। दक्षिणके अतिरिक्त गाड़ी खड़ी करने पर जुर्माना दस हजार रुपये तक बढा दिया था। हालांकि इसका विरोध देखते हुए उसे खारिज कर दिया, लेकिन 7 जुलाई से दक्षिण मुंबई में गैरकानूनी पार्किंग के विरूद्ध आरटीओ व बीएमसी ने मुहिम छेड़ दी।

पहले ही दिन लाखों का जुर्माना वसूला गया। जिसके बाद मुंबईवासियों ने इसके विरूद्ध आवाज उठाना भी प्रारम्भ किया। लोगों को बोलना है की बीएमसी के पास पर्याप्त पार्किंग की स्थान नहीं है। वैसे मुंबई में 29 स्थान पर वैध सार्वजनिक पार्किंग की सुविधा उपस्थित है। गाड़ियों की बढ़ती तादात देखते हुए यह पर्याप्त नहीं। जिसके चलते गाड़ियां फिर नो पार्किंग इलाके में लगानी पड़ती हैं। ऐसा मुंबईवालों का बोलना है।