अब यूपी बोर्ड केएडमिशन पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क

अब यूपी बोर्ड केएडमिशन पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क

सीसीएसयू से संबद्ध कॉलेजों में यूजी की पहली मेरिट को तकनीकी गलती के कारण रद्द कर दिया गया है. इस मेरिट से अब तक 18396 एडमिशन हो चुके हैं. संशोधित मेरिट लिस्ट आज प्रातः काल 10 बजे जारी की जाएगी. उत्तर प्रदेश बोर्ड के जिन विद्यार्थियों का एडमिशन हो चुका है, उन पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ेगा. अन्य बोर्ड के सामान्य श्रेणी के कम मेरिट वाले अभ्यर्थियों के एडमिशन पर पुनर्विचार किया जाएगा. नयी सूची में अल्प आय वाले अभ्यर्थियों की कुल सीटों की 10 फीसदी सीटें बढ़ाते हुए मेरिट जारी होगी. इसमें सात हजार के करीब सीटें बढ़ गई हैं. इस मेरिट के एडमिशन 28 जून तक होंगे. 30 जून को दूसरी मेरिट जारी की जाएगी.

Image result for सीसीएसयू से संबद्ध मेरठ

सीसीएसयू से संबद्ध मेरठ व सहारनपुर मंडल के नौ जिलों के कॉलेजों में 23 मई से रजिस्ट्रेशन किए गए थे. 21 जून को विवि ने पहली मेरिट जारी कर दी. शनिवार को बैंक बंद होने के कारण एडमिशन नहीं हो पाए. सोमवार को 12340 छात्र-छात्राओं ने एडमिशन लिए. मंगलवार दोपहर तक एडमिशन की संख्या 18396 पहुंच गई. इसी बीच विवि प्रशासन की तरफ से सभी कॉलेजों में फोन कर एडमिशन रुकवा दिए गए.
प्रति कुलपति प्रो। वाई विमला ने बताया कि पहली मेरिट में दो गलतियां हो गईं, इसके कारण संशोधित मेरिट लिस्ट जारी की गई है. पहली लिस्ट में एक गलती अल्प आय वाले कोटे की सीटों को लेकर हुई. दरअसल विवि को ये सीटें कुल सीटों पर 10 प्रतिशत बढ़ानी चाहिए थी, लेकिन विवि ने 50 प्रतिशत जनरल सीटों पर इनको बढ़ा दिया. इससे आधी सीटें ही बढ़ पाईं.दूसरी गलती ये हुई कि कॉलेजों में उत्तर प्रदेश बोर्ड की सीटों का 50 प्रतिशत कोटा है. सीबीएसई, आईसीएसई व अन्य बोर्डों का कोटा 50 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होने कि सम्भावना है.लेकिन विवि ने जो मेरिट जारी की उसमें अन्य बोर्डों का कोटा 50 प्रतिशत से ज्यादा हो गया. ऐसे में इस लिस्ट को रोक दिया गया है. उन्होंने बताया कि बुधवार प्रातः काल 10 बजे विवि नयी मेरिट जारी करेगा. छात्र-छात्राएं इस मेरिट को देखकर ही एडमिशन लें. विद्यार्थियों के मोबाइल पर इस विषय में मेसेज भेजे जाएंगे.

संशोधित मेरिट का प्रभाव बीए, बीकॉम, बीएससी में एडेड व राजकीय कॉलेजों पर ही पड़ेगा. अन्य प्रोफेशनल कोर्सों पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ेगा. मंगलवार तक एडमिशन की बात करें तो उत्तर प्रदेश बोर्ड के 12810 एडमिशन हुए हैं. जबकि रजिस्ट्रेशन उत्तर प्रदेश बोर्ड के 87401 हुए हैं. सीबीएसई के4584 एडमिशन हुए हैं. कुल रजिस्ट्रेशन 23870 हैं.आईसीएसई बोर्ड के 157 एडमिशन हुए हैं. जबकि इसमें रजिस्ट्रेशन 673 हुए हैं. अन्य बोर्डों के 845 एडमिशन हुए हैं. अन्य बोर्डों के रजिस्ट्रेशन 3773 हुए हैं. कुल एडमिशन 18396 हुए हैं. प्रति कुलपति प्रो। वाई विमला ने बताया कि उत्तर प्रदेश बोर्ड के जो एडमिशन हो चुके हैं, उन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. सीबीएसई व अन्य बोर्ड में अगर बेहद कम मेरिट वाले एडमिशन हुए तो उन पर पुनर्विचार किया जाएगा.

अल्प आय वाले विद्यार्थियों की बढ़ी 14 हजार से ज्यादा सीटें
कॉलेजों में कोर्सों की बात करें तो एडेड-राजकीय व सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों में बीए, बीएससी, बीकॉम, बीएससी एजी में 142851 सीटें हैं. इनमें बीए में एडेड-राजकीय कॉलेजों में 22 हजार व सेल्फ फाइनेंस में 54 हजार से ज्यादा, बीकॉम में एडेड-राजकीय कॉलेजों में 4600 व सेल्फ फाइनेंस में 22 हजार से ज्यादा सीटें हैं. बीएससी बायो-मैथ-स्टैटिस्टिक्स में एडेड-राजकीय कॉलेजों में 9463 व सेल्फ फाइनेंस में 20 हजार से ज्यादा सीटें हैं. बीएससी एजी में एडेड व सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों में 2840 सीटें हैं. 12वीं के बाद पांच वर्षीय बीए-एलएलबी व बीकॉम-एलएलबी में छह हजार से ज्यादा सीटें हैं. आर्थिक आधार पर रिज़र्वेशन के तहत विवि को कुल सीटों की 10 प्रतिशत सीटें बढ़नी थी. यानी 14 हजार से ज्यादा सीटें बढ़ाई जानी चाहिए थीं लेकिन विवि ने 50 प्रतिशत सीटों पर रिज़र्वेशन लागू किया. पहले सात हजार से ज्यादा सीटें बढ़ी थी. इससे विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा. मेरिट ओर नीचे जाएगी.

बीपीईएस के फिटनेस टेस्ट की तिथि स्थगित
मेरठ. सीसीएसयू कैंपस में संचालित बीपीईएस प्रथम साल में एडमिशन के लिए जिन छात्र-छात्राओं का फिजिकल फिटनेस टेस्ट 30 जून व एक जुलाई को होना था, उसे रजिस्ट्रेशन की तिथि बढ़ाए जाने के कारण स्थगित कर दिया गया है. विवि के क्रीड़ाधिकारी जीएस रूहल ने बताया कि अगली तिथि बाद में घोषित की जाएगी.