अब अमेरिका ने चीन को दे दिया एक और झटका

अब अमेरिका ने चीन को  दे दिया एक और झटका

अमेरिका और चीन के बीच की तनातनी किसी से छिपी नहीं है। दोनों देशों के बीच बीते कुछ समय से हालात ठीक नहीं चल रहे हैं। अब अमेरिका ने चीन को एक और झटका दे दिया है। जिससे बीजिंग भड़क चुका है।दरअसल अमेरिका ने चीन के शिनजियांग प्रांत में मुस्लिमों को हिरासत में रखे जाने को लेकर चीनी अधिकारियों के वीजा पर प्रतिबंध लगा दिया है।

Image result for अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाते हुए लिया ये बड़ा फैसला, बीजिंग भड़का

अब अमेरिका के इस नए कदम से दोनों देशों का रिश्ते और खराब होने के आसार हैं। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अनुसार जो चीनी अधिकारी और नेता उइगर मुस्लिमों को यातना गृह में रखे जाने के लिए जिम्मेदार हैं, उनके लिए वीजा पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। केवल इतना ही नहीं बल्कि इनके परिवारों की यात्रा पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है।

मंगलवार को अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक बयान जारी कर कहा, चीन की सरकार ने उइगरों, कजाक, किर्गिज और मुस्लिम अल्पसंख्यक समूह के खिलाफ अभियान छेड़ दिया गया है। अमेरिका ने चीन से शिनजियांग में मुस्लिमों के खिलाफ अत्याचार खत्म करने की मांग की है।

रिश्ते बेहद नाजुक मोड़ पर

अमेरिका ने ये कदम ऐसे समय में उठाया है, जब दोनों देशों के रिश्ते बेहद नाजुक मोड़ पर आ गए हैं। इसी हफ्ते बीजिंग का एक कारोबारी प्रतिनिधिदल बातचीत के लिए वाशिंगटन भी पहुंचने वाला है। हालांकि अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि इस फैसले का व्यापार वार्ता से कोई लेना देना नहीं है।

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि चीन के अधिकारी तब तक बातचीत की मेज पर नहीं आएंगे, जब तक उन्हें ये नहीं लगेगा कि अन्य पक्ष गंभीर है। उइगर मुस्लिमों के मामले में अमेरिका के इस कदम से चीन पर दबाव बढ़ा है। हालांकि बीते महीने भी अमेरिकी नेतृत्व में संयुक्त राष्ट्र संघ में शिनजियांग में मुस्लिमों के साथ बुरा व्यवहार किए जाने की आलोचना की थी। अमेरिका ये मानता है कि चीन ने करीब 10 लाख उइगर मुस्लिमों को यातना गृह में रखा हुआ है।