केजरीवाल का बड़ा ऐलान, 'दिल्ली में सबको मिलेगा एकसमान इलाज'

केजरीवाल का बड़ा ऐलान, 'दिल्ली में सबको मिलेगा एकसमान इलाज'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सरकारी अस्पतालों से वीआईपी कल्चर खत्म करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि मैंने दिल्ली के स्वास्थ विभाग को सरकारी अस्पतालों में वीआईपी कल्चर खत्म करने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि इसके बाद दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में वीआईपी लोगों को कई सुविधाएं नहीं मिलेंगी। अब सभी लोगों को दिल्ली में एक समान इलाज मिलेगा।

'दिल्ली में सबको मिलेगा एकसमान इलाज'
दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में अब वीआईपी कमरें किसी को नहीं मिलेंगे। सभी नागरिकों को एक जैसी सुविधाएं मिलेंगी। केजरीवाल ने ऐलान किया कि दिल्ली सरकार ने अस्पतालों में 13,899 बेड बढ़ाने का फैसला लिया गया है। यह दिल्ली के सरकारी अस्पतालों के मौजूदा बेड की संख्या से 120 फीसदी ज्यादा है। मौजूदा समय में दिल्ली में 11,353 बेड हैं।

'सभी अस्पताल होंगे पूर्ण एसी'

दिल्ली सरकार ने सभी सरकारी अस्पतालों को पूर्ण रूप से एसी बनाने की घोषणा की है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों को एसी करने के लिए काम किया जा रहा है। गौरतलब है कि मंगलवार को दिल्ली सरकार द्वारा चलाए जा रहे सरकारी अस्पतालों की सुविधाओं को लेकर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने एक रिपोर्ट अरविंद केजरीवाल को सौंपी थी।

रिपोर्ट में क्या था?
केजरीवाल को सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया था कि दिल्ली सरकार के 38 अस्पतालों में बेड्स की मौजूदा क्षमता 11,353 है। इसके अलावा 13,899 बेड्स की क्षमता को और जोड़ा जा रहा है। दिल्ली के स्वास्थ मंत्री सत्येंद्र जैन ने रिपोर्ट में दावा किया था कि अगले छह महीने के अंदर 2800 बेड्स की क्षमता वाले तीन अस्पताल और शुरू हो जाएंगे। अत्याधुनिक सुविधाओं वाला द्वारका का इंदिरा गांधी हॉस्पिटल, जिसकी क्षमता 1241 बेड्स की है, पश्चिमी दिल्ली का सबसे बड़ा अस्पताल होगा।