अगर बढ़ रही हैं चर्बी,तो आज ही हो जाए सतर्क,इस जानलेवा बिमारी के होने की संभावना...

अगर बढ़ रही हैं चर्बी,तो आज ही हो जाए सतर्क,इस जानलेवा बिमारी के होने की संभावना...

पिछले कुछ सालों में कैंसर एक ऐसी जानलेवा बीमारी के रूप में उभरी है जिसका अगर समय पर उपचार न किया जाए तो आदमी की मृत्यु हो जाती है. कैंसर के बहुत से कारणों में धूम्रपान एक बड़ा कारण माना जा सकता है. लेकिन, हाल ही में हुए एक शोध में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है कि कैंसर के लिए गलत जीवनशैली व उससे होने वाला फैट की चर्बी भी जिम्मेदार है. आइए जानते हैं कैसे मोटापा, धूम्रपान करने से भी ज्यादा हानिकारक है.

ब्रिटेन के कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट में हुए एक शोध में ये बात सामने आई है कि भले ही कैंसर के लिए धूम्रपान सबसे बड़ा कारण हो व लोग इससे परहेज कर रहें हो. लेकिन मोटापे से ग्रस्त लोगों के लिए भी स्थिति कुछ अच्छा नहीं है. कैंसर का खतरा इन लोगों के लिए भी है. ब्रिटेन में हर वर्ष करीब मोटापे से ग्रस्त लोगों में आंत के कैंसर के करीब 1900 मुद्दे आते हैं. यह समस्या धूम्रपान से होने वाले कैंसर से कहीं ज्यादा है. क्योंकि केवल आंत ही नहीं किडनी, लीवर व गर्भाशय के कैंसर के भी करीब दो हजार मुद्दे सामने आए हैं जिनमें इस बीमारी के लिए फैट की चर्बी जिम्मेदार है.

शोधकर्ता मिशेल ने बताया कि शरीर में उपस्थित अलावा वसा, कोशिकाओं को बार बार टूटने का इशारा भेजते हैं. जिसकी वजह से कोशिकाओं को नुकसान पहुंचता हैं व कैंसर का खतरा शरीर पर मंडराने लगता है.

मिशेल ने बताया कि धूम्रपान के नुकसान के बारे में भले ही लोग जागरुक हो रहे हों लेकिन हमें आवश्यकता है कि अब मोटापे की समस्या से बचाने के लिए स्वास्थ्य वर्धक खानपान वठीक दिनचर्या के बारे में लोगों को बताया जाए व मोटापे को एक महामारी बनने से रोका जा सके.