हेल्दी एंड शाइनी बाल पाने के लिए ऐसे दे अपने बालों को पोषण

हेल्दी एंड शाइनी बाल पाने के लिए बालों को पोषण देने की बहुत आवश्यकता होती है। पोषण के साथ-साथ जरुरी है कि बालों की साफ-सफाई भी रुटीन में की जाए। बाजार में मिलने वाले शैंपू और अन्य हेयर प्रोडक्ट्स, आपके बालों की केयर करने के पूरे दावे करते हैं। मगर कहीं न कहीं उनमें मौजूद कैमिकल्स बालों को नुकसान पहुंचा ही जाते हैं। उन शैंपूज के इस्तेमाल के साथ-साथ यदि घर पर बालों की कुदरती रुप से देखभाल की जाए, तो बालों को नुकसान कुछ कम हद तक पहुंचता है।

आंवला, रीठा और शिकाकाई

अगर आंवला,रीठा और शिकाकाई जैसे कुछ असरदार कुदरती तत्वों का हेयर केयर के लिए इस्तेमाल किया जाए तो इससे झड़ते बालों में नई जान डाली जा सकती है। इन तीनों हर्बल फलों को जब मिला दिए जाए तो ये हमारे बालों पर जादू की तरह असर करते हैं।

आंवला

आंवला एक तरह की औषधि है। इसमें विटामिन-C, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, विटामिन-B, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। कैमिकल्स के लगातार इस्तेमाल से बेजान और रुखे बालों को ठीक करने के लिए आंवला सबसे महत्वपूर्ण औषधि के रुप में साबित होता है।

रीठा

रीठा एंटी-ऑक्सिडेंट्स, आयरन और विटामिन-C से भरपूर है। यह सभी तरह की हेयर प्रॉब्लम्स को दूर करने में प्रभावी है। रीठा बालों की कोशिकाओं को स्वस्थ बनाने के अलावा बालों के विकास में भी मदद करता है।

शिकाकाई

शिकाकाई बालों को पोषण देने वाले कई तत्वों से युक्त हैं। शिकाकाई को एकेसिया कोंसिना कहा जाता है। इसके इस्तेमाल से बालों के pH लेवल में सुधार होता है। जो कि बालों को कलर और अन्य हानिकारक कैमिकल्स के इस्तेमाल से खत्म हो चुका होता है।

इस तरह करें तीनों का इस्तेमाल

दोमुंहे बाल, झड़ते बाल, सफेद होते बाल के साथ बालों से जुड़ी अन्य समस्याओं को ख्तम करने के लिए इन तीनों औषधियों का इस्तेमाल आपके लिए बहुुत फायदेमंद रहेगा।

आंवला,रीठा और शिकाकाई पाउडर को बराबर मात्रा में मिलाकर पानी की मदद से एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को 30 से 40 मिनट तक बालों में लगाकर छोड़ दें। उसके बाद आप किसी आयुर्वेदिक शैंपू से आप बालों को धो लें। इसके अलावा आप इन तीनों चीजों को मिलाकर घर पर ही शैंपू भी तैयार कर सकते हैं।

आंवला, रीठा और शिकाकाई से शैंपू तैयार करने के लिए 5-6 रीठा, 6-7 शिकाकाई और कुछ आंवला को पानी में रात भर के लिए भिगो कर रख दें। सुबह में इस मिश्रण को गर्म करें और जैसे ही यह उबलना शुरू कर दे, गैस की आंच बंद कर दें। अब इस मिश्रण को ठंडा होने के बाद मिक्सर में पीस लें। मिश्रण को छान लें और बाकी चीजों को अलग कर लें। अब इस लिक्विड का प्रयोग शैंपू के तौर पर करें। आपके बालों से जुड़ी हल समस्या कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगी।

डैंड्रफ की समस्या के लिए यूं करें इस्तेमाल

डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए आंवला, रीठा और शिकाकाई के पाउडर को दही के साथ मिलाकर एक लेप तैयार कर लें। इस लेप को अपने बालों में 1 घंटे के लिए लगा रहना दें। उसके बाद नार्मल पानी के साथ अपने हेयल वॉश कर लें।

ऑयली बाल इस तरह रहेंगे हेल्द

ऑयली बालों की समस्या सबसे ज्यादा होती है। इनमें पसीना भी अधिक आता है और चिपचिपाहट भी अलग से रहती है। ऑयली बालों को सुंदर और शाइनी दिखाने के लिए क चम्मच रीठा पाउडर, एक चम्मच आंवला पाउडर, शिकाकाई, दही और मुल्तानी मिट्टी मिलाकर गाढ़ा पैक तैयार कर लें। इस पैक को भी सिर नहाने से एक घंटा पहले बालों में अपलाई करें। आप देखेंगी कि आपके बालों से एक्सट्रा ऑयल हट जाएगा साथ ही आपके बाल बॉउंसी लगेंगे।